दुग्ध उत्पादन के लिए डेरी पर दिया गया 7 दिवसीय प्रशिक्षण

पीपीगंज गोरखपुर। आज दिनांक 17 जुलाई 2019 को गोरखपुर जिले के जंगल कौड़िया ब्लाक के भंडारो एवं मदनपुरा गांव में 23 मगहिलाओं को हुमाना पीपल टु पीपल इंडिया के रिसोर्स पर्सन पूर्ण चंद गुर्जर के द्वारा दुग्ध उत्पादन के लिए डेरी पर 7 दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया इसमें कुल 23 महिलाओं ने भाग लिया यह प्रशिक्षण उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के सहजनवा तथा पीपीगंज ब्लॉक में 1000 महिलाओं को एक दिवसीय लीप प्रशिक्षण तथा 500 महिलाओं को चार दिवसीय फेस्ट प्रशिक्षण देकर कुशल बनाया जा रहा है इसमें अभी तक संस्था द्वारा 882 महिलाओं को एक दिवसीय प्रशिक्षण एवं 141 महिलाओं को चार दिवसीय प्रशिक्षण तथा 43 महिलाओं को डेरी पर स्किल प्रशिक्षण दिया जा चुका है

यह प्रशिक्षण ऐस. ई.डी.पी. प्रोग्राम के तहत किया जा रहा है जो सिडबी बैंक द्वारा समर्थित अनन्या फाइनेंस के सहयोग से मित्रता फाइनेंस कंपनी द्वारा संचालित किया जा रहा है इस प्रशिक्षण में महायोगी गोरखनाथ कृषि विज्ञान केंद्र से रिसोर्स पर्सन डॉक्टर विवेक प्रताप सिंह जी विशेषज्ञ पशुपालन ने प्रशिक्षण में पशुपालन की जानकारी महिलाओं को दिया जिसमें उनके द्वारा बताया गया की किस तरह से वैज्ञानिक विधि द्वारा पशुपालन करके अधिकतम लाभ पशुपालन द्वारा प्राप्त किया जा सकता है डॉ सिंह के द्वारा पशु प्रबंधन पशुओं में होने वाली बीमारियों व उनके होने के कारण तथा बीमारियों से बचाव के तरीके एवं दूध बढ़ाने के लिए संतुलित आहार में क्या खिलाए यह सब इनके द्वारा बताया गया तथा अजोला उत्पादन के बारे में बताया गया कि यह पशुओं के लिए दूध बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका है।

मित्रता फाइनेंस कंपनी से कृष्ण मुरारी त्रिपाठी जी ने बताया कि डेयरी प्रशिक्षण लेने के बाद यह सभी महिलाएं अपना दूध उत्पादन कर व्यवसाय को आगे बढ़ाएंगे तथा हूंमांना पीपल टो पीपल पीपल इंडिया के कार्यकर्ता रिसोर्स पर्सन पूर्ण चंद गुर्जर ने बताया कि इस सात दिवसीय डेयरी प्रशिक्षण के बाद यह सभी महिलाएं अपना अपना व्यवसाय डेयरी का व्यवसाय शुरू करेंगी अपने परिवार की आर्थिक स्थिति में सुधार करेंगे और आत्मनिर्भर बनेगी

Leave a Reply