UP: गोंडा आपूर्ति विभाग में भ्रष्टाचार का खेल चरम पर

गोंडा आपूर्ति विभाग के अजब-गजब खेल उत्तर प्रदेश सरकार के आपूर्ति विभाग पर प्रदेश भर के गरीबों मजदूरों के राशन आपूर्ति का दायित्व है। प्रदेश का गोंडा जनपद विभिन्न गन्ना, खदान नकल व खाद्यान्न मामलें में माफियागीरी का कीर्तिमान पहले से बना चुका है और तो और आपूर्ति विभाग का तहसील में स्थापित कार्यालय लोग बताते हैं कि महीनों बंद रहता है कर्मचारी अगर किसी सरकारी काम से आये तो वाहर ही बाहर निपटा कर चले जाते हैं।

कोविड19 महामारी के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार ने जन-जन तक राशन पहुंचाने की व्यवस्था करते हुए ईमानदारी से वितरण की लाख कोशिशों पर भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबे भारीभरकम आपूर्ति विभाग ने पानी फेर दिया लोग शिकायत करते रहे गड़बड़ी कराने वालों से ही जांच का स्वांग किया जाता रहा, रही सही कसर पिछले दिनों मनकापुर मसकनवा मार्ग पर पल्टी सस्ते गल्ले की वरामदगी ने पूरा कर दिया विभाग दावा करता रहा वितरण शत प्रतिशत हुआ फिर ट्रक भर अनाज किसने कहां भेजा इसका कोई जबाब नहीं गत सप्ताह मनकापुर नगर में पूर्ति विभाग एसडीएम मनकापुर व भारी संख्या में पुलिस बल की जांच पडताल का खेल हुआ लेकिन अभी तक कार्यवाही शून्य है हां अन्दर खाने सब कुछ प्रभावशाली नेताओं के सहारे जिला पूर्ति अधिकारी गोंडा ने सही कर दिया आखिर आम जनता की आवाज को अधिकारी बाबू नेता कोटेदार मिलकर कब तक दबाते रहेंगे।

Leave a Reply