झाँसी आउटपुट सोर्स कर्मचारियों को वेतन न मिलने को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन
  • विवेक राजपूत झाँसी

झाँसी कोरोना काल के दौरान आउटपुट सोर्स के रूप में भर्ती किए गए कर्मचारियों ने आज काम से निकाले जाने के विरोध में कलेक्ट्रेट में जबरदस्त प्रदर्शन कर नारेबाजी की। इस दौरान सभी कर्मचारियों ने सरकार से उन्हें बेरोजगार न किए जाने की अपील की। कलेक्ट्रेट में दर्जनों आउट सोर्स युवक व युवतियों ने प्रदर्शन करते हुए मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन जिला प्रशासन को भी सौंपा। इस दौरान कर्मचारियों ने बताया कि कोरोना काल के दौरान जब प्रत्येक व्यक्ति दहशत में था, उस समय लेवल वन व लेवल टू अस्पतालों के लिए उन्हें आउटसोर्स कर्मचारी के रूप में रखा गया था। सभी कर्मचारियों ने अपनी जान की परवाह न करते हुए पूरे मनोयोग से अपनी सेवाएं दी हैं। अब जब कोरोना काल समाप्त होने की कगार पर है और वैक्सीन आ गई है, सभी कर्मचारियों को हटाया जा रहा है। कर्मचारियों का कहना था कि उन्होंने जान की परवाह न करते हुए पूरे मनोयोग से अपनी सेवाएं दीं। उन्हें एक माह के लिए भर्ती किया गया था, लेकिन 6 महीने से भी अधिक समय तक उन्होंने अपनी सेवाएं दीं। कर्मचारियों ने सरकार से उन्हें काम से न हटाए जाने तथा कहीं अन्य समायोजित किए जाने की मांग की।

Leave a Reply