राफेल सौदे पर तमाम तरह के भ्रम-निवारण करती पुस्तक-*बोफोर्स नहीं राफेल है* 

नई दिल्ली। बहुचर्चित और विवादस्पद राफेल सौदे पर तमाम तरह के भ्रम-निवारण करती एक पुस्तक सामने आई है। पुस्तक के लेखक खोजी पत्रकार जितेंद्र चतुर्वेदी हैं।  *बोफोर्स नहीं राफेल है* शीर्षक इस पुस्तक का लोकार्पण नोएडा स्तथि हिन्दुस्थान समाचार एजेंसी के कार्यालय में सम्पन्न हुआ। लोकार्पण के अवसर पर हिन्दुस्थान समाचार के अध्यक्ष एवं राज्य सभा सांसद आर के सिन्हा, हिन्दुस्थान समाचार के समूह संपादक रामबहादुर राय, समाजसेवी एच एन शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार हषवर्धन त्रिपाठी  हिन्दूस्थान समाचार के कार्यकारी संपादक जितेन्द्र तिवारी आदि   मौजूद रहे। वरिष्ठ पत्रकार रामबहादुर राय ने कहा कि इस पुस्तक के जरिए  राफेल मुद्दे को समझाने में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि एक दुष्चक्र के तहत लोगों में राफेल को लेकर भ्रम फैलाया गया।
राज्यसभा सदस्य आर के सिन्हा ने कांग्रेस के इतिहास और आजादी के बाद नेहरू और बाद में  नेहरू-गांधी परिवार के दुष्चक्रों पर प्रकाश डाला। समाजसेवी एच एन शर्मा ने पत्रकार जितेन्द्र चतुर्वेदी को बधाई दी एवं कम समय में किये गये महत्वपूर्ण कार्य के लिए लेखक को प्रोत्साहित किया
अपनी किताब पर बात करते हुए जितेन्द्र चतुर्वेदी ने बताया कि राफेल में कुछ पत्रकारों, खासकर एन राम ने प्रोपेगेंडा फैलाया था। उन सभी पर यह किताब तथ्यों के साथ जवाब देती है।

Leave a Reply