यहाँ है अटल बिहारी वाजपेयी का मंदिर-रोज होता है जाप रोज होती है पूजा देखें वीडियो
644

ग्वालियर। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी भले ही अब इस दुनिया से रुकसत हो चुके हैं…लेकिन लोगों के दिलों में वो हमेशा जिंदा रहेंगे। अटलजी से लोग इतना प्यार करते हैं कि मध्य प्रदेश के ग्वालियर में उनका एक मंदिर ही बना दिया और तो और इस मंदिर में रोजाना भक्तों की भीड़ रहती है और भजन-आरती के साथ पूजा अर्चना की जाती है। बाकायदा यहां पुजारी भी नियुक्त किया गया है। अटल बिहारी बाजपेयी भारत माता के महान सपूत जो अब हमारे बीच नहीं रहे लेकिन उनकी यादें हमेशा हम सबको बीच जिंदा रहेगा। अपने राजनीतिक जीवन में कविताओं से लोगों का मन मोहने वाले अटल जी जन जन में बसते हैं तभी तो हिंदुस्तान ही नहीं दुनिया में उनके चाहने वालों की कमी नहीं है।

लोग अटलजी को इस कदर चाहते हैं कि ग्वालियर में बकायदा उनका एक मंदिर तक बनया गया है। दरअसल, ग्वालियर के रहने वाले विजय सिंह चौहान अटल बिहारी बाजपेयी के इतने मुरीद हैं…जिन्होंने एक मंदिर बना कर पूरे विधि विधान से अटलजी की प्रतिमा को मंदिर में स्थापित किया और बकायदा प्रतिमा पर जलाभिषेक,दुग्धाभिक कर अटलजी की पूजा अर्चना करते हैं….औऱ तो औऱ इसके लिए मंदिर में एक पुजारी भी नियुक्त है जो सुबह शाम अटलजी की पूजा करते हैं और अटलजी में आस्था रखने वाले मंदिर में उनकी कविताओं का जाप किया करते हैं।

अटल बिहारी वाजपेयी

दरअसल,अटल जी अपने छात्र जीवन में इसी सत्य नारायण की टेकरी पर पढने आया करते थे इसी बात को ध्यान मे रख कर एडवोकेट विजय सिंह चौहान ने अपनी आस्था दिखाने के लिए मंदिर का निर्माण 2005 में कराया। वाजपेयी जी हिन्दी के कवि, पत्रकार और प्रखर वक्ता के रूप में जाने जाते हैं। ये वाजपेयी जी का ही करिश्मा था कि उन्हें अपनी पार्टी के लोग ही नहीं बल्कि विरोधी भी सम्मान के साथ देखते थे तभी तो भारत माता के इस महान सपूत के निधन पर शोक संतप्त लोक कहते हैं कि वाजपेयी के निधन से एक युग का अंत हो गया है।

अटल बिहारी वाजपेयी

Leave a Reply