लखनऊ में स्वास्थ्य टीम से दुर्व्यवहार, नए कोरोना मामले के बाद कई इलाके शील

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। कुछ लोग जानबूझकर राजधानी में माहौल बिगाड़ रहे हैं। वह कसाई बाड़ा, सदर में स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ अभद्रता किया गया। पुलिस की मौजूदगी में भी स्वास्थ्य कर्मियों को सुरक्षित निकलने के लिए वहाँ (संदिग्ध क्षेत्र) से भाग कर आना पड़ा। स्वास्थ्य टीम की शिकायत के बाद उच्य अधिकारियों ने पूरे क्षेत्र में शक्ति से लॉकडाउन का पालन करने का निर्देश देकर मौके पर भारी संख्या में लगा दिया गया।

सदर, तालकटोरा , कैसरबाग , के साथ पुराने लखनऊ के कई इलाके शील जर दिये गये। रविवार को राजधानी में कोरोना पॉजिटिव के 7 नए मामले आए। नए मामलों के चलते तालकटोरा के लाल मस्जिद, पीरबख्श मस्जिद, कैसरबाग में रहमानिया और फूल बाग मस्ज़िद, वजीरगंज में मोहम्मदी मस्जिद के आसपास का इलाका, सहादतगंज के भी एक हिस्से को सील कर सभी से अपने-अपने घरों में रहने की अपील की जा रही है।सदर के कसाई बाड़े के इलाके में गयी स्वास्थ्य कर्मियों की टीम से पेपर छीन कर फाड़ने की कोशिश की गयी।

जमात के कारण हुई असहज स्थित से निपटने के लिये कॅरोना का संकट टालने के लिए मध्य कमान ने शनिवार की रात 12 बजे से लखनऊ कैन्ट में लगा 48 घन्टे का कर्फ़्यू लगा दिया है। सोमवार की रात्रि 12 बजे तक सैन्य छेत्र में केवल QRT और मेडिकल टीम की इंट्री होगी। कैंट के सदर बाजार की अली जान मस्जिद में तब्लीगी जमात के 12 लोगों के ठहरने की सूचना मिली थी।

जिनमें से केइयों में कोरोना संक्रमित पाये जाने की  सूचना मिलेने के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गयी थी। इसके बाद सेना ने 48 घन्टे तक सैन्य इलाके की सभी सीमाएं सील करने का देर रात निर्णय लिया है।संक्रमण को रोकने के लिए48 घंटे का कर्फ्यू लगाने का आदेश उच्च स्तर से दिए गए है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में आज भी 16 नए लोग कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। इनमें 15 लोग तब्दीली जमात से जुड़े हुए हैं।

Leave a Reply