आंगनबाडी कार्यकत्रियों ने घर-घर जाकर पोषण आहार किट बांटे

चमोली में कोरोना वायरस संक्रमण के बीच आंगनबाडी कार्यकत्रियों की जंग कुपोषण की रोकथाम से भी जारी है। रविवार को आंगनबाडी कार्यकत्रियों ने आंगनबाडी केन्द्रों में पंजीकृत लाभार्थियों को घर-घर जाकर पोषण आहार किट बांटे। कुपोषण को रोकने के लिए महिला एवं बाल विकास के माध्यम से आंगनबाडी में पंजीकृत प्रत्येक बच्चे को टीएचआर के तहत 200 रुपये की पोषण आहार किट तथा गर्भवती महिलाओं एवं दूध पिलाने वाली माताओं, बुजुर्गो को 237.50 रुपये की पोषण आहार किट दी जाती है। पोषण आहार के तहत टेक होम राशन किट में सोयाबीन दाल, आयोडीन नमक, मूंगफली दाना, छुआरे, काजू, गुड, दलिया, सूजी, चने आदि खाद्य सामग्री दी जाती है। चमोली जनपद में 1078 आंगनबाडी केन्द्रों पर 0 से 6 साल के लगभग 22 हजार बच्चे तथा करीब 6 हजार बुजुर्ग, गर्भवती और दूध पिलाने वाली माताएं पंजीकृत है, जिनकों घर-घर जाकर टीएचआर वितरण किया गया। इस दौरान बुजुर्गो, गर्भवती महिलाओं, दूध पिलाने वाली माताओं एवं बच्चों को कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के प्रति जागरूक भी किया गया और सोसियल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ध्यान रखा गया।

रिपोर्ट
संतोष नेगी

Leave a Reply