बहराइच में भाभी भतीजी की जान करंट से बचाने के लिए युवक ने दी जान, गांव में मचा कोहराम
247

बहराइच। जनपद बहराइच में आज शुक्रवार की भोर में महिला पूजा करने के लिए स्नान के बाद गीले कपड़े तार पर डाल रही थी। इसी दौरान तार पर करंट उतरने से वह चिपक गयी और उसे बचाने बेटी दौड़, तो वह भी चिपक गयी। उनकी चीख पर छत पर सो रहे युवक ने भाभी भतीजी पर छलांग लगा दी। जिससे भाभी भतीजी बच गई, युवक चिपक गया। बिजली आपूर्ति काट कर युवक को शिवपुर पीएसी लाए जाने पर चिकित्सकों ने परीक्षण के बाद उसे मृतक घोषित कर दिया। हादसे से युवक के घर में हाहाकार मच गया है।

मामला खैरीघाट थाने के लौकिहा के गांव मजरा मर्दनसिंह पुरवा निवासी राजेश कुमार श्रीवास्तव 42 पुत्र गोमती प्रसाद अपनी मकान के छत पर सोये हुए थे । उनकी भाभी 46 वर्षीय श्याम कलां पत्नी गनेश शुक्रवार की भोर में लगभग साढ़े पांच बजे स्नान करने के बाद पूजा पाठ करने की तैयारी में थी । श्याम कलां ने नहाने के बाद गीले कपड़े आंगन मे अरगनी के लिए नंगा तार बांध रखा था । तार पर गीले कपड़े डालने पर श्याम कलां को करंट लगा। जिससे वह चिपक गयी । बगल में सो रही श्याम कलां की दस वर्षीय बेटी मंशू मां की चीख पर जगकर मां को खींचने के दौरान करंट से चिपक गई।

दोनों मां बेटी की चीख पुकार कर मकान के छत पर सोए हुए राजेश कुमार ने छत से छलांग भाभी व भतीजी के ऊपर छलांग लगाई। जिससे भाभी भतीजी छूट गयी। जिससे श्याम कलां व मंशु की जान बच गई । राजेश कुमार करंट से चिपक गया। शोर पर आस पास के लोग दौड़ कर बिजली सप्लाई कटवायी। आनन फानन में गंभीरावस्था में राजेश को  शिवपुर पीएचसी ले जाया गया । जहां चिकित्सकों ने परीक्षण के बाद उसे मृतक घोषित कर दिया।

राजेश के बड़े भाई गनेण की दस वर्ष पहले मौत हो चुकी है। जानकारी मिलने पर उपनिरीक्षक राजेश कुमार गुप्ता मौके पर पहुँचे। परिजनों ने लाश का पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया। एसएचओ विनोद कुमार यादव ने बताया कि लाश का पंचनामा भरकर परिजनों को सौंप दिया है।

News Reporter

Leave a Reply