दिल्ली महिला कांग्रेस पेड़ बचाओ अभियान के तहत बांटेगी 1000 पौधे
200

नई दिल्ली/दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि पिछले साढ़े तीन वर्षों से आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार और दूसरी ओर भाजपा की केन्द्र सरकार व निगम सरकार एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप की राजनीति कर रहे है। उन्होंने कहा कि पूरे विश्व में जिस समय लम्बे समय तक चलने वाले विकास(सस्टेनेबल डेवलपमेन्ट) की बात चल रही है उस समय दिल्ली जो कि देश की राजधानी है वहां पर 16500 पेड़ों के काटे जाने का निर्णय आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार और भाजपा की केन्द्र सरकार द्वारा लिया जाना कहां का विकास है। पेड़ जो कि हमारे फेंफड़ों की तरह काम करते है, उनके कटने के पश्चात हमारे जीवन का क्या परिणाम होगा यह सब लोग जानते है।

प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार तथा आप पार्टी की दिल्ली सरकार दिल्ली में सरोजनी नगर-नरोजी नगर क्षेत्र में 16500 पेड़ों को काटने के फैसले में शामिल है। उन्होंने कहा कि पेड़ों को काटने से पहले दिल्ली के पर्यावरण विभाग तथा दिल्ली पोलूशन कंट्रोल कमेटी ने पेड़ो को काटने की अनुमति थी। जबसे केन्द्र में भाजपा तथा दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार सत्ता में आई है तबसे दिल्ली में हरित क्षेत्र लगातार कम हो रहा है क्योंकि दिल्ली के वातावण की परवाह न करते हुऐ दिल्ली में पेड़ों की कटाई का काम हो रहा है।

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा पेड़ों की कटाई के मामले में आदेश दिया गया कि 4 जुलाई तक पेड़ों को काटने पर रोक लगा दी, परंतु इससे पहले कई हजार पेड़ काटे जा चुके थे। शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि दिल्ली के लोग यह पूछना चाहते हैं कि हजारों पेड़ जो कोर्ट के आदेश से पहले काटे जा चुके है उसकी जिम्मेदारी कौन लेगा।

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि अब बात आ रही है कि सरोजनी-नौरोजी नगर के जिन क्षेत्रों में विकास का जो माॅडल बनाया गया था उसका रिडेवलेपमेन्ट किया जायेगा। शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि हजारों पेड़ कटने के बाद सरकार जागी है।  पहले इस मुद्दे को लेकर सरकार संजीदा क्यों नही थी।

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने समय-समय पर विपक्ष की भूमिका निभाते हुए धरने प्रदर्शन किए है और उसके साथ-साथ सकारात्मक कार्यों को लेकर अभियान भी चलाए है। जैसे कि स्वाईन फ्लू, डेंगू इत्यादि। उन्होंने कहा कि पेड़ बचाओ अभियान के तहत दिल्ली महिला कांग्रेस, दिल्ली युवक कांग्रेस तथा दिल्ली प्रोफेश्नल कांग्रेस के साथ मिलकर1000 लोगों को पौधे बांटे जाऐंगे, जिसमें समाज के बुद्धिजीवी वर्ग, डाक्टर, वकील, लेखक, पत्रकार व समाज सेवी होंगे।

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि सोमवार, 2 जुलाई को दिल्ली युवक कांग्रेस दिल्ली में पेड़ काटे जाने के खिलाफ धरना व प्रदर्शन करेगी तथा दिल्ली प्रोफेश्नल कांग्रेस दिल्ली में प्रदूषण को लेकर एक श्वेत पत्र बनाऐगी जिसमें कांग्रेस की दिल्ली सरकार के 15 वर्षों के शासन में कैसे दिल्ली में हरित क्षेत्र जो कि 2.7 प्रतिशत था उसको बढ़ाकर 22 प्रतिशत कर दिया गया था । श्वेत पत्र में यह भी होगा कि किस प्रकार दिल्ली को प्रदूषण से बचाया जा सकता है।

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए दिल्ली प्रदेश युवक कांग्रेस के अध्यक्ष श्री विकास छिकारा ने कहा कि हम सोमवार, 2 जुलाई को पेड़ बचाओ अभियान के अन्तर्गत प्रदर्शन करेंगे। दिल्ली प्रोफेश्नल कांग्रेस की कन्वीनर यासमीन किदवई ने कहा कि दिल्ली प्रोफेश्नल कांग्रेस की ओर से दिल्ली में किस प्रकार प्रदूषण को कम किया जाये, उसको लेकर श्वेत पत्र जारी किया जाएगा।

संवाददाता सम्मेलन में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी के अलावा वरिष्ठ नेता श्री चतर सिंह, दिल्ली युवक कांग्रेस अध्यक्ष विकास छिकारा, दिल्ली प्रोफेश्नल कांग्रेस के उपाध्यक्ष व कोषाध्यक्ष योगेश सचदेवा और कन्वीनर यासमीन किदवई, मुख्य मीडिया काआर्डिनेटर मेंहदी माजिद मौजूद थे।

 

News Reporter

Leave a Reply