Log in

 

updated 5:35 PM UTC, Apr 26, 2017
Headlines:

खैराबाद के सपा कार्यकर्ताओं ने निकाली विशाल मोटरसाइकिल रैली

सीतापुर खैराबाद आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियां तेज हो चुकी हे प्रदेश स्तर पर समाजवादी पार्टी में हो रही धर पटक  को आसानी से मीडिया टीवी चैनलों पर देखा जा सकता है इसी चुनावी घमासान में राजनीतिक पार्टियां तरह-तरह की रैलियां बैठकों तथा आयोजनों के माध्यम से अपनी ताकत को आम जनता को दिखाकर जनता को लुभाने का प्रयास कर रही है इसी क्रम में खैराबाद के समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं नेताओं तथा पदाधिकारियों ने समय की नजाकत को देखते हुए सदर विधायक राधेश्याम जयसवाल की अगुवाई में विशाल मोटरसाइकिल रैली निकालकर अपनी शक्ति तथा एकता का भरपूर प्रदर्शन करके खैराबाद के वोटरों को लुभाने का भरपूर प्रयास किया रैली में प्रमुख रूप से इदरीश सभासद  पुतानी शकील खान युसूफ खान आलोक बाजपेई जुनैद खान अंशु धवन  इत्यादि सैकड़ों समाजवादी कार्यकर्ता तथा नेता मौजूद रहे लेकिन क्या खैराबाद की जनता रैली में शामिल इन कथित नेताओं से खुश है क्या जनता इनको प्रेम करती है क्या जनता की नजर में यह नेता बेदाग छवि के हैं यह तो जनता ही बेहतर बता सकती है सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार रैली में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने वाले वार्ड नंबर 16 के इदरीश सभासद जो कि सही से लिखना   नहीं जानते लेकिन ठेकेदारी में घटिया सामग्री लगाकर मोटी रकम कमाना  जानते हैं इन्हीं के वार्ड नंबर 16 में नवनिर्मित सड़कें घटिया निर्माण सामग्री के कारण मात्र कुछ ही समय में  ध्वस्त और बर्बाद हो रही है और वार्ड में सफाई व्यवस्था बदहाल है सफाई कर्मी मौज उड़ा रहे हैं तथा गोबर के ढेरों में डेंगू मलेरिया वाले मच्छर पनप कर लोगों को अस्पताल पहुंचा रहे हैं खैराबाद की जनता भ्रष्टाचार से परेशान है क्षेत्रीय लोगों को ऐसे नेता की जरूरत है जो बेदाग छवि का हो तथा जनता की समस्याओं को समझ कर उसको सुलझाने का प्रयास करें जब तक ऐसा कर्मठ इमानदार और जुझारु नेता जनता को दिखाई नहीं देगा तब तक किसी रैली तथा किसी आयोजन का जनता की नजर में कोई मतलब नहीं बनता

छुट्टी माँगने पर भडके एसडीएम ,लेखपाल को काॅलर पकड के बाहर निकाला

गौरव शर्मा/सीतापुर।मिली जानकारी के अनुसार प्रशिक्षु लेखपाल सचिदानंद द्विवेदी अपनी परीक्षा को लेकर के एस डीएम महोली के यहाँ अपनी छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लेकर गया हुआ था जिस पर एसडीएम महोली अतुल प्रकाश श्रीवास्तव देखते ही भड़क उठे, कहा की तुम लोग काम वाम करते नही जब देखो तब छुट्टी लेकर आ जाते हो।तुमको नौकरी करना सिखाता हूँ की कैसे की जाती है नौकरी। यहां से लेकर गाज़ीपुर तुम्हारे घर तक तुमको ठीक करता हूँ।,इस बात पे जब उसने कहा की सर मेरा गुनाह क्या है तो इस बात पर लेखपाल की गर्दन पकड़ लिया और अशब्दों का प्रयोग करते हुए अपने चेंबर से बाहर धक्का मरते हुए भगा दिया, जब इस बात की जानकारी पीड़ित ने अपने सगठन को बताई तो सब एकत्रित होकर के एसडीएम के खिलाफ जमकर नारे बाजी की और पीड़ित लेखपाल ने कहा अगर कोई एस डीएम के खिलाफ कार्यवाही नहीं होती है तो हम अपनी नौकरी से त्यागपत्र दे देगे।

भूख से मौत का जिम्मेदार कौन...?

गौरव शर्मा/सीतापुर नगर में आज राष्ट्रीय अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक विकास परिषद की बैठक लोहारबाग पार्क सीतापुर में सम्पन्न हुई। जिसकी अध्यक्षता मीना भारती तथा संचालन शांति विश्वकर्मा ने किया। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में परिषद के अध्यक्ष राजेश कुमार सिद्धार्थ उपस्थित थे। बैठक को सम्बोधित करते हुए परिषद के अध्यक्ष राजेश कुमार सिद्धार्थ ने कहा कि सपा सरकार कागजों पर हजारों योजनाओं की घोषणा करती है और धरातल पर एक भी गरीब को लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिसका उदाहरण तहसील लहरपुर के केसरीगंज निवासी आदित्य शुक्ला के बेटे चक्रपाणि शुक्ला की मौत भूख के मारे हुई। जिसके पास न तो रहने के लिए मकान है और न ही इलाज करने के लिए एक फूटी कौड़ी, न ही पेट भरने के लिए एक भर का राशन। घुट-घुटकर चक्रपाणि मौत हो जाती है। शर्म आना चाहिए सफेद पोश नेताओं पर जो पांच लाख रूपये प्रति वर्ष सांसद तथा एक करोड़ विधायक तथा जनपद के कलेक्टर के पास राहत कोष फिर भी भूख से मौत का जिम्मेदार कौन है। इसके जिम्मेदार के विरूद्ध मुकदमा दर्ज किया जाए तथा मृतक परिजनों को बीपीएल कार्ड नहीं, न ही कुछ चंदा उसे चाहिये एक आवास और पांच बीघे जमीन तथा लाचार और विवश को उत्तम इलाज और अपने नन्हे-मुन्ने बच्चों को छोड़कर गया चक्रपाणि, उसकी शिक्षा, दीक्षा की जिम्मेदारी उन जिम्मेदार व्यक्तियों के पास होना चाहिए, जो शासन और प्रशासन के नुमाइंदे हैं। यदि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपने उस आदेश को याद करे, िजसमें कहा था कि यदि किसी की भूख से मौत हुई, तो वहां का सीधे जिम्मेदार कलेक्टर होगा। इसलिए जिम्मेदार के विरूद्ध मुकदमा दर्ज किया जाए, जिससे पुनः भूख से मौत न हो सके। यदि ऐसा नहीं हुआ, तो निश्चय ही परिषद भूख के जिम्मेदार लोगों के विरूद्ध जन आंदोलन छेडने के लिए बाध्य होगा।

प्रतिवर्ष सांसद को पांच करोड, विधायक को एक करोड और कलेक्टर के पास राहत कोष, फिर भी भूख से मौत, जिम्मेदार पर दर्ज हो रिपोर्ट

अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष मो0शमसेर रहमानी ने कहा कि सपा सरकार चाहे जितना जुल्म कर ले और चाहे जितना अपराधियों को संरक्षण दे। एक दिन जुल्म करने व कराने वाले का अंत होता है, क्योंकि सपा सरकार में अंधे माता-पिता इमरान की हत्या करने वाले आज भी सपा के नेताओं के संरक्षण में घूम रहा है और अंधा माता-पिता न्याय पाने के लिए दर्द भटक रहा है। अध्यक्षता कर रही मीना भारती महिला उपाध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ लखनऊ ने कहा कि सम्पूर्ण प्रदेश में महिलाओं पर अत्याचार बढ़ता जा रहा है, जिससे बहने, अपनी आबरू नहीं बचा पा रही है। रजनीराज ने कहा कि सपा सरकार में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गयी है और सरकारी योजनाएं अधिकारी और नेताओं की चैखट तक सिमट कर रह गयी है। पात्र व्यक्ति आवास, पेंशन आदि लाभ के लिए दर-दर भटक रहा हैं। दिव्या भारती जिलाध्यक्ष युवा महिला प्रकोष्ठ ने कहा कि सपा सरकार युवाओं को धोखा देकर सत्ता पर कब्जा कर लिया है, परन्तु इस बार सपा का सपना चकनाचूर होगा। क्योंकि युवाओं को अभी तक टैबलेट व सभी को लैपटाप नहीं दिया है। हरिनाम ब्लाक अध्यक्ष महमूदाबाद ने कहा कि सपा सरकार ने किसानों के कर्जा माफ करने का ऐलान किया था, परन्तु अभी तक किसानों का कर्जा माफ नहीं किया गया, जिससे किसान आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो रहे है। राधेश्याम, सुनील कुमार, विश्राम, रामनाथ, मुन्नी देवी, अवधेश कुमार, रामदेवी, मालती देवी, निर्मला देवी, विशुना देवी, रामरानी, कौशल्या देवी, चम्पा देवी, कलावती, सुनीता देवी, राजकुमारी, शांति देवी, रामपति, पुष्पा देवी, सरोजनी, दिव्याभारती, जगरानी, महारानी, रामदेवी, शिवकली, मीना भारती, गायत्री देवी, पूजा देवी, रामदुलारी, सुमनदेवी, कामनी देवी, गंगोत्री, रामचरन, फूलमती, शिवदुलारी, रजनीरात, श्रीपाल गौतम, हरिनाम, सुनीता देवी, विद्यावती, सुषमा भारती, सुन्दरी देवी, सुमन देवी, त्रिवेणी पाल आदि ने एक स्वर में कहा कि यदि सपा सरकार गरीबों को आवास, पेंशन, कर्जा माफ, छात्रों को लैपटाप और टैबलेट तथा गरीबों को राशन कार्ड तत्काल उपलब्ध नहीं कराया, तो निश्चित ही आगामी 30 सितम्बर को डाॅ0 अम्बेडकर पार्क सीतापुर में कार्यकर्ता सम्मेलन कर सम्पूर्ण जनपद में जनआंदोलन किया जाएगा। जिसकी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी।

रेडक्रास ने किया रक्तदान जागरूकता कार्यक्रम

रेडक्रास सोसाइटी सीतापुर द्वारा सीतापुर शिक्षण संस्थान रस्यौरा, सीतापुर में स्वैच्छिक रक्तदान जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। छात्र छात्रो को जागरूक करते हुए रेडक्रास सचिव संजीव मेहरोत्रा ने कहा कि रक्तदान जीवन दान है हमारे द्वारा किया गया रक्तदान कई जिन्दगियों को बचाता है इस बात का एहसास हमे तब हेाता है जब हमारा कोई अपना खून के लिए जिन्दगी और मौत से जूझ रहा होता है तब हम नींद से जागते है और रक्त के इंतजाम के लिए जददोजहद शुरू कर देते है। रेडक्रास के सदस्य फरहत बेग सनी ने  बताया कि रक्त की कोई फैक्ट्री नही है इसका मानव शरीर में ही निर्माण होता है।  यहां आज हम सभी पढ़े लिखे समाज के लोग है और एक दूसर की भलाई के लिये कार्य करते है।

 

रेडक्रास सदस्य अरून सहगल ने कहा कि कोई भी स्वस्थ्य व्यकित जिसकी उम्र 18 से 60 साल के बीच हो वह रक्तदान कर सकते है। इसके पष्चात डा0 पल्लवी कुमार ने छात्रो को स्वैच्छिक रक्तदान से हाने वाले फायदो के बारे में बताया और प्रत्येक से नियमित स्वैच्छिक रक्तदान करने को कहा। रेडक्रास के इतिहास एवं रेडक्रास चिन्ह के बारे में मौजूद लोगो को विस्तारपूर्वक बताया गया और स्वैच्छिक रक्तदान में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की। 

दरगाह हजरत मकबूल मियां मे तीन दिवसीय 238 वे वार्षिक उर्स का आयोजन

सीतापुर खैराबाद स्थानीय दरगाह हजरत मकबूल मियां मे तीन दिवसीय 238 वे वार्षिक उर्स का आयोजन मकबूल मियां के कुल शरीफ से संपन्न हो गया ज्ञात हो कि मकबूल मियां के दादा सैयद हबीब अनवर कलंदर का 238 वह तथा मकबूल मियां रहमतुल्ला अलेह का 58 वां वार्षिक  उर्स संपन्न हुआ साथ लंगर खाने में विशेष फातिहा कुरान का पाठ हुआ  उर्स में आए जायरीन को संबोधित करते हुए दरगाह के सज्जादा नशीन सैयद तारिक अहमद किरमानी ने कहा कि हमें इन बुजुर्ग ओलिया अल्लाह के उद्देश्यों को मानना चाहिए तथा जिस प्रकार अल्लाह व उसके रसूल की बातों पर अमल करके अपनी जिंदगी गुजार दी तभी यह  स्थान इन्हें प्राप्त हुआ जिसकी बदौलत 238 वर्ष गुजर जाने के बाद भी आज भीड़ लगी हुई है हमें आपस में प्यार मोहब्बत से रहना चाहिए आपसी भाईचारा कायम करें दूसरे की परेशानी और तकलीफ को अपनी परेशानी समझे तभी हम कामयाब होंगे सज्जादा नशीन के छोटे भाई सय्यद अनिक मियां ने सभी का आभार व्यक्त किया इस अवसर पर उपस्थित सज्जादा नशीनों में बड़े मखदूम साहब के नजमुल हसन शोएब मियां छोटे मखदूम साहब के सय्यद मदनी मियां दरगाह हफीजी असलमी के  हाजी सैयद फुरकान हाशमी तथा टीटू खान बसपा लीडर अशफाक खान आदि  ने अपनी उपस्थिति दर्ज की वही खैराबाद के जानी मानी हस्तियों ने इस अवसर पर अदब व ऐतराम के साथ शिरकत करके प्रोग्राम को कामयाब बनाने में अपना योगदान दिया

प्रधानपति पर आधा दर्जन लोगों ने बोला हमला, इलाज के दौरान हुई मौत

गोंडा, छपिया थाना अंतर्गत बेलहरी बुजुर्ग गावँ में चुनावी रंजिश को लेकर प्रधानपति दीपनारायण पर गावँ के ही ओमकार प्रजापति ने अपने अन्य साथियों के साथ मंगलवार की देर हमला किया। जिसके बाद गंभीर रुप से घायल प्रधानपति की लखनऊ ट्रामा सेंटर अस्पताल में इलाज के दौरान हुई मौत हो गई।

 

बभनान बाजार से घर जाते समय मेहनिया गावँ के निकट खरीददारी कर अपने चचेरे भाई हरिपाल के साथ रात करीब नौ बजे अपने घर जा रहें प्रधानपति पर अपने आधा दर्जन साथियों के साथ पहले से ही घात लगाये बैठे विपक्षी ओमकार प्रजापति पर लाठी डंडों से हमला बोल दिया।जिससे प्रधानपति को सर पर गंभीर चोटे आयीं व चचेरे भाई हरिपाल को भी हाथ पैर पर छोटी मोटी चोटे आयीं। शोर गुल सुन कर गावँ के लोग व घर वाले घायल शख्स को आनन फानन में फैज़ाबाद ले गये ,जहाँ डॉक्टर ने हालत गंभीर होने पर लखनऊ ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया। जहाँ देर रात इलाज के दौरान प्रधानपति की मौत हो गयी। मृतक का शव लखनऊ में ही पोस्टमार्टम करवा कर देर शाम निवास बेलहरी बुजुर्ग लाया गया। पुलिस प्रशासन ने इस मामले पर गंभीर दिखाते हुए तत्काल सेवा से दरोगा सुदामा यादव व आरक्षी सुभाष यादव को लाइन हाजिर किया हैं।

Tagged under

जमीन के विवाद में फायरिंग , 6 वर्षीय बालिका को लगे छर्रे

उन्नाव, शहर कोतवाली के अन्तर्गत गांव रुस्तमपुर में जमीन को लेकर चल रहे विवाद में दो पक्षों के बीच गाली गलौज और हाथापाई नौबत के कुछ देर बाद एक पक्ष ने असलहों से लैस होकर दूसरे पक्ष पर ताबड़तोड़ फायरिंग की, इससे आसपास के लोगों में दहशत फैल गई। निकट खेल रही एक पड़ोसी की छह साल की बेटी कट्टे से निकले को छर्रे लग गए। घायल के पिता ने कोतवाली पुलिस को रिपोर्ट दर्ज करने की लिए तहरीर दी है। पुलिस ने घायल बालिका को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा है।

घटना दोपहर लगभग 3 बजे की है। उक्त गांव निवासी रमेश यादव और मुनारे यादव के बीच एक जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। दोनों के बीच इसी को लेकर कहासुनी और गाली गलौज हो गयी। उस समय तो लोगों ने बीचबचाव करा दिया। लेकिन कुछ देर बाद रमेश यादव ने अपने आधा दर्जन साथियों के साथ मुनारे के घर पर चढ़ाई कर फायरिंग करने लगे। इससे आस पास रहने वाले लोंगों में दहशत फैल गयी वह घरों में दुबक गए। मुनारे के पड़ोसी नीलेश की छह वर्षीय बेटी संजीवनी घर के बाहर खेल रही थी उसे तमंचे से निकले छर्रे लग गए। ग्रामीणों का कहना है कि करीब एक दर्जन राउंड फायरिंग की गयी। घायल बालिका के पिता नीलेश की सूचना पर पुलिस ने घायल बच्ची को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा है। कोतवाल संजय पाण्डेय ने कहा कि पुलिस बल को मौके पर भेजा है रिपेार्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

सिरफिरे ने देसी बम फोड़ मचाई दहशत, चाकू से बकरी पर किए कई वार

उन्नाव, बीघापुर थाना के गांव पंसरिया में मंगलवार को सिरफिरे ने जो हंगामा काटा वह दो घंटे से अधिक तक चला। इस बीच पूरे गांव के लोग दहशत में रहे। महिलाएं और बच्चे तो घरों में दुबके रहे। ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी दो घंटे से अधिक गांव में गदर मचा रखी थी। भीड़ पर देशी बम फेंकता तो किसी पर चाकू से हमला कर देता। कई बार उसने तमंचे से फायर भी किया। उसके सिरफिरे होने का आलम यह था कि जब वह भागा तो रास्ते में एक बकरी को चाकू मार दी। गांव के लोग भी यह नहीं समझ पा रहे थे कि आखिर क्या मामला हैं।

गांव का रहने वाला सुरेश अकारण ही गांवो वालो पर बिदक गया और देसी बम, तमंचे और चाकू से लोगों पर हमला करने लगा। लोगों का कहना है कि आरोपी सुरेश मानसिक तौर पर बीमार हैं। गांव के लोगों ने बताया कि सुरेश की पत्नी कई वर्ष पहले मर गई थी। उसके एक बेटा है वह भी पागल है। मां-बाप हैं नहीं इससे वह डिप्रेशन में रहता है। नशे का आदी है। ग्रामीणों ने बताया कि सुरेश जाजमऊ क्षेत्र की किसी फैक्ट्री में काम करता है। तीसरे चौथे दिन गांव आता है। तीन दिन पहले वह गांव आया था उसी के बाद से रोज नशे में धुत घूम रहा था। किसी को अप्रत्याशित घटना को अंजाम देगा इसका शक भी नहीं था।


Subscribe to this RSS feed
loading...

New Delhi

Banner 468 x 60 px