Log in

 

updated 3:12 PM UTC, Dec 12, 2017
Headlines:
Namamibharat Reporter

Namamibharat Reporter

छात्राओं के हाथ में पूरा पुलिस स्टेशन, गोण्डा एस.पी. की अनोखी पहल

यज्ञविजय चतुर्वेदी/गोण्डा।आज पुलिस कप्तान द्वारा एक अनोखी पहल देखने को मिली आज कप्तान द्वारा जिले के लाल बहादुर शास्त्री महाविद्यालय में नारी सुरक्षा सप्ताह का आयोजन कर विद्यालय की छात्राओं को नारी सम्मान सुरक्षा और सशक्त करने के गुर सिखाए गए इसके बाद पुलिस अधीक्षक ने 12 छात्राओं को आज नगर कोतवाली लेकर आई और कोतवाली का चार्ज छात्राओं के हाथ में सौंप दिया इन छात्राओं को कोतवाल से लेकर सन्तरी तक का इंचार्ज बनाया गया।                                  


नगर कोतवाली में कोतवाल की कुर्सी पर बैठकर पीड़ितों की फरियाद सुनने वाली यह लड़की कोई और नहीं बल्कि लाल बहादुर शास्त्री महाविद्यालय की छात्राएं हैं जिसको पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार सिंह ने 1 दिन का कोतवाल बनाया है। आप देख सकते हैं कि किस तरह नगर कोतवाली में बैठी यह छात्राएं किस तरह पीड़ित फरियादी की फरियाद सुन रही है और उसको समझा रही है इन छात्राओं को नगर कोतवाली में किसी को कोतवाल तो किसी को दीवान व संतरी भी बनाया गया।

 

नगर कोतवाली की इन कुर्सियों पर बैठी सभी छात्रा पुलिस की भूमिका बखूबी निभाते हुए पुलिस कप्तान को धन्यवाद भी दिया और बताया कि पुलिस का काम बहुत कठिन होता है और हम लोगों को यह कार्य आज सौंपा गया था बहुत अच्छा लगा और पुलिस के प्रति हमारे मन में जो डर था आज वह खत्म हो गया है पुलिस के प्रति अब हमारे मन में कोई भी डर नहीं है।

राम कथा पार्क में होना है पार्षदों का शपथ ग्रहण, इसलिए सपा पार्षदों ने किया विरोध नही लेंगे शपथ

फैजाबाद। पार्षदों के शपथ ग्रहण समारोह से पहले ही इसका बहिष्कार हो गया है। समाजवादी पार्टी के चुने गए पार्षदों ने इसक बहिष्कार कर दिया। कल पार्षदों के होने वाले शपथ ग्रहण समारोह को सपा पार्षदों ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि शपथ ग्रहण समारोह का भाजपाईकरण हो रहा है। क्योंकि यह समारोह अयोध्या के राम कथा पार्क में हो रहा है।

 

सपा के नेताओं ने बहिष्कार करते हुए शपथ ग्रहण समारोह को नगर निगम कार्यालय में कराने की मांग की है। जिसके बाद डिप्टी सीएम केशव मौर्या का दौरा स्थगित हो गया है। पहले इस कार्यक्रम में अब केशव मौर्या का आना तय था। अब परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह शपथ ग्रहण समारोह में शरीक होंगे।

 

दिल्ली के सरकारी स्कूलों से सबको सीखने की जरूरत :राजपाल यादव

दिल्ली। दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री श्री मनीष सिसोदिया और हिंदी फिल्मों के जाने-माने अभिनेता राजपाल यादव ने आज मयूर विहार फेस 2 के एक सरकारी स्कूल में स्टूडेंट्स के साथ संवाद किया। स्टूडेंट्स ने श्री राजपाल यादव से उनके स्कूली जीवन, फिल्मी करियर और उनके संघर्ष इत्यादि को लेकर अनेक सवाल भी पूछे जिनका उन्होंने बहुत बेबाकी से जवाब दिये।

राजकीय सर्वोदय कन्या विद्यालय, पॉकेट-बी, मयूर विहार फेस 2 में स्टूडेंट्स के साथ संवाद में राजपाल यादव ने कहा, "मैं किसी सरकारी स्कूल के बारे में ऐसी कल्पना भी नहीं कर सकता था। यहां की शानदार बिल्डिंग, खेलकूद की शानदार सुविधाएं, और तो और यहां स्वीमिंग पूल भी है। इन सबके लिए दिल्ली सरकार को और विशेष रूप से उप-मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री को बधाई। मैं चाहता हूं कि इस तरह के सरकारी स्कूल देश के गांव-गांव में, कोने-कोने में हो जाएं।"

 

राजपाल यादव दिल्ली सरकार की शिक्षा क्रांति में भी अपना योगदान देंगे। वो समय-समय पर दिल्ली के सरकारी स्कूलों के बच्चों के बीच मुखातिब होते रहेंगे और उनको कला, नाटक, अभिनय इत्यादि को लेकर प्रोत्साहित करेंगे। उनके इस सहयोग के लिए उप-मुख्यमंत्री ने राजपाल यादव को धन्यवाद दिया।   

अपने बचपन को याद करते हुए श्री राजपाल यादव ने कहा, "मैं प्राइमरी स्कूल में तख्ती लेकर पढ़ने जाता था। अगर आज कोई मुझसे पूछे कि यहां तक क्या खोकर पहुंचे तो मेरा एक ही जवाब होगा कि बचपन। आप सब इस उम्र को जियो। ये बचपन आपको दोबारा नहीं मिलेगा।"

 

बच्चों से उन्होंने ये भी कहा कि जीवन में मेहनत कीजिए। लेकिन कभी असफलता हाथ लगे तो निराश मत होइए। कोई स्कूल की पढ़ाई में टॉप करता है तो कोई जीवन के किसी और क्षेत्र में। जीवन में हर आदमी के अलग-अलग पन्ने हैं।

 

राजपाल यादव ने ये भी कहा कि मैंने दिल्ली के सरकारी स्कूलों में आ रहे बदलाव के बारे में काफी कुछ सुना। इसके बाद मैंने श्री मनीष सिसोदिया जी से सरकारी स्कूलों को देखने का आग्रह किया। मैं जहां भी जाऊंगा वहां कहूंगा कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों से सबको सीखना चाहिए। इस मौके पर उप-मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री श्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि बहुत जल्द सरकारी स्कूलों में शाम के समय आर्ट, म्यूजिक, थियेटर इत्यादि की स्पेशल क्लासेस लगनी शुरू हो जाएंगी।

एग्जिट पोल से योगी सन्न , सरकार के माथे से छूट पसीने

मनोज श्रीवास्तव /लखनऊ, उत्तर प्रदेश नगरीय चुनाव में 52 प्रतिशत हुए मतदान से भाजपा सरकार के माथे पर पसीने छूट रहे हैं। योगी के इतनी जी तोड़ मेहनत के बाद मतदान प्रतिशत में खास सुधार न होने से सरकार परेशान है। अकेले मुख्यमंत्री आदित्य नाथ ने अपने सात माह के कार्यकाल का जनादेश मान कर सबसे ज्यादा लगभग 40 चुनावी सभा किये। टिकिट वितरण में सामाजिक समीकरण को धता बता कर जीएसटी और नोट बंदी के भय से डरी पार्टी ने 50 प्रतिशत से ज्यादा टिकट वैश्यों को थमा दिया। गुजरात विधानचुनाव से पूर्व 1 दिसम्बर को उसके बाद भी मतदान और सर्वे की आयी रिपोर्ट ने भाजपा नेतृत्व की धुकधुकी बढ़ा दिया है।चरणवार बढ़ते मतदान के बाद भी एग्जिट पोल में भाजपा को 16 में से 11 नगर निगम की सीटें ही मिल पा रही हैं।

 

आगरा, अलीगढ़, सहारनपुर, फिरोजाबाद, मेरठ, मुरादाबाद, गाजियाबाद , झांसी, कानपुर, इलाहाबाद, लखनऊ, अयोध्या, मथुरा, गोरखपुर , वाराणसी और बरेली में मेयर चुने जाएंगे। सहारनपुर,फिरोजाबाद, अयोध्या और मथुरा में पहली बार मेयर का चुनाव हुआ है। फिरोजाबाद और सहारनपुर को अखिलेश यादव नगर निगम बनाये थे। अयोध्या और मथुरा को योगी  सरकार ने नगर निगम बनाया है।  बरेली, सहारनपुर, इलाहाबाद, फिरोजाबाद, मथुरा में बिना विपक्षी नेताओं के उतरे भाजपा को कड़ी टक्कर मिल रही है।यदि ये अनुमान सत्य के इर्द-गिर्द ठहरा तो पार्टी ने इससे अच्छा प्रदर्शन 2012 में किया था जब भाजपा यूपी में तीसरे नम्बर की पार्टी होती थी।

Subscribe to this RSS feed
loading...

New Delhi

Banner 468 x 60 px