Log in

 

updated 3:12 PM UTC, Dec 12, 2017
Headlines:

5 बार का विधायक हैं ये आज भी क्षेत्र में चलते है स्कूटर से

 

मेरठ, विधानसभा चुनाव में टक्कर दो पक्षों में सिमट गया है।ज्यों -ज्यों मतदान निकट आ रहा है वहां के मतदाता दो पक्षों में खड़े हो गए हैं। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाचपेयी जब निकले तो गलियों से निकल कर मतदाताओं ने ऐसा स्वागत किया अपना बेटा जंग जीतने के लिए जा था हो। महिलाएं तिलक लगा रही हैं तो बुजुर्ग माला पहना कर आशीर्वाद दे रहे हैं। कोई कोई लिफाफे पैसा दे रहा है तो बहुत सारे लोग हाथों हाथ यह कहते हुए कुछ न कुछ जेब में डालने हुए कहते हैं कि आप का जीतना बहुत जरुरी है नहीं तो विधानसभा में मेरठ की आवाज खामोश हो जायेगी।  रोकते -रोकते बच्चे बोल पड़ते हैं "हिंदुओं लाल है इज्जत का सवाल है,इतना सुनते ही सबकी आवाजों में जान आ जाता है और फिर वही नारा प्रचार पंच लाईन बन जाता है।पांच बार के विधायक रहे बाजपेयी आज भी क्षेत्र में स्कूटर से ही चलते है।

  • Published in Politics

सुभारती में फिल्म निर्माण कार्यशाला का शुभारम्भ

मेरठ। सुभारती पत्रकारिता एवं जनसंचार संस्थान में पन्द्रह दिवसीय फिल्म निर्माण कार्यशाला का आज से शुभारम्भ किया गया। फिल्म निर्माण विशेषज्ञ संजय कुमार श्रीवास्तव का स्वागत करते हुए संस्थान के डीन एवं प्राचार्य डॉ. धर्मेन्द्र सिंह ने बताया कि कार्यशाला का मूल उद्देश्य पत्रकारिता एनं जनसंचार के विद्यार्थियों को अधिक से अधिक प्रायोगिक रूप से कार्यकुशल बनाना है और इंडस्ट्री की जरूरतानुसार उन्हें तैयार करना है।

 

पन्द्रह दिन तक चलने वाली इस कार्यशाला में विद्यार्थी फिल्म निर्माण के सभी चरणों का प्रायोगिक (प्रेक्टिकल) ज्ञान अर्जित कर सकेंगे, जिसमें आईडिया विकसित करने से लेकर फिल्म के सम्पादन तक का स्तर शामिल है। इस कार्यशाला का संचालन फिल्म निर्माण विशेषज्ञ संजय कुमार श्रीवास्तव करेंगे। पहले दिन उन्होंने विद्यार्थियों को आईडिया और विषय का बृह्द ज्ञान दिया साथ ही कई फिल्में भी दिखाई।


इस मौके पर विभाग  के डीन डॉ. धर्मेन्द्र सिंह ने बताया कि पांच-पांच विद्यार्थियों का समूह निर्माण कर कई फिल्में भी निर्मित की जायेगी जिनकी एक निश्चित तिथि पर स्क्रीनिंग की जाएगी। उन्होंने बताया कि विभाग का इस कार्यशाला के आयोजन में निहीत उद्देश्य है कि विभाग के विद्यार्थी अधिक से अधिक कार्यकुशल बनें और मीडिया इंडस्ट्री में जिस तरह के कुशल लोगों की जरूरत है उसी पैमाने पर विभाग उन्हें तैयार कर फील्ड में उतार सके। इस तरह की कार्यशाला विभाग पहले भी करता रहा और आगे भी आयोजित करने की योजना है। इस मौके पर विभाग के उप-प्राचार्य डॉ. नीरज कर्ण सिंह, सहायक प्राध्यापक प्रियंका गौतम, राकेश कुमार, कामिनी अलोरिया, मुद्दसिर सुल्तान सहित कई विद्यार्थी मौजूद थे।

अब अत्याधुनिक मशीन से होगी सुभारती अस्‍पताल में दि‍ल की मरम्‍मत

मेरठ। 06 दि‍सम्‍बर 2016। हार्ट सर्जरी के लि‍ए मशीन आधारि‍त अत्‍याधुनि‍क तकनीक के साथ सघन चि‍कि‍त्‍सा केन्‍द्र की सुवि‍धा अब सुभारती अस्‍पताल में मुहैया हो पाऐगी। आज स्‍वामी वि‍वेकानंद सुभारती वि‍श्‍ववि‍द्यालय के छत्रपति‍ शि‍वाजी सुभारती अस्‍पताल के हार्ट वि‍भाग में सर्जरी के लि‍ए इस्‍तेमाल होने वाली अत्‍याधुनि‍क नई मशीन एवं सघन चि‍कि‍त्‍सा केन्‍द्र का उद्घाटन राज्‍यसभा सांसद एवं सेक्‍यूरि‍टी एवं इंटेलि‍जेंस सर्विस के मालि‍क आर के सि‍न्‍हा ने कि‍या। इस मौके पर भाजपा के प्रवक्‍ता अमि‍ताभ सि‍न्‍हा भी मौजूद थे। आर के सि‍न्‍हा ने उद्घाटन करते हुए कहा कि‍ सुभारती अस्‍पताल का यह वि‍भाग सैकड़ो रोगि‍यों को सफल इलाज उपलब्‍ध कराने में मील का पत्‍थर साबि‍त होगा। इस मौके पर सुभारती केकेबी चेरि‍टेबल ट्रस्‍ट की अध्‍यक्ष डॉ. शल्‍या राज ने सुभारती के पर्यावरण बचाव संकल्‍प के तहत पौधा भेंट कर अति‍थियों का स्‍वागत कि‍या और वि‍वि‍ के कुलपति‍ डॉ. एन के आहूजा ने शॉल भेंट कर उनका सम्‍मान व्‍यक्‍त कि‍या।

इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि‍ सुभारती अस्‍पताल आस-पास के लोगों के लि‍ए अत्‍याधुनि‍क चि‍कि‍त्‍सा मुहैया कराने के लि‍ए सबसे सुलभ केंद्र साबि‍त हुआ है और भवि‍ष्‍य में भी अपनी उपादेयता साबि‍त करता रहेगा। इस मौके पर उन्‍होंने वि‍श्‍ववि‍द्यालय परि‍सर का भ्रमण कि‍या और परि‍सर की सुन्‍दरा को सराहा। वि‍श्‍ववि‍द्यालय के सभी वि‍भागों, इमारतों, चौक चौराहों, सड़को और मैदानों आदि‍ का नाम महापुरुषों, शहि‍दो, स्‍वतत्रंता सेनानि‍यों के नाम पर समर्पित की जाने की वि‍श्‍ववि‍द्यालय प्रबंधन की तारीफ की और कहा कि‍ अक्‍सर लोग जि‍न्‍हें अपनी स्‍मृति‍ से भूला देते हैं, वि‍श्‍ववि‍द्यालय प्रबंधन ने उन्‍हें जीवि‍त रखा है, जो कि‍ प्रशंसनीय कार्य है। सुभारती का भ्रमण एक तरह से पूरे भारत का भ्रमण कहा जा सकता है।

 

इस दौरान उन्‍होंने वि‍श्‍ववि‍द्यालय के अत्‍याधुनि‍क सभागार मांगल्‍य प्रेक्षागृह का भी भ्रमण कि‍या और इसे देखने का बाद उन्‍होंने कहा कि‍ यह पेक्षागृह भारत का सबसे बड़ा और खूबसुरत है। साथ ही आर के सि‍न्‍हा ने सुभारती फाईन आर्ट कॉलेज का भी भ्रमण कि‍या। इस दौरान वि‍श्‍ववि‍द्यालय के संस्‍थापक डॉ. मुक्‍ति‍ भटनागर एवं डॉ. अतुल कृष्‍ण, सुभारती के के बी चेरि‍टेबल ट्रस्‍ट की अध्‍यक्ष डॉ. शल्‍या राज, वि‍श्‍ववि‍द्यालय के कुलपति‍ डॉ. एन के आहूजा, सुभारती मेडि‍कल कॉलेज के डीन एवं प्राचार्य डॉ. ए के अस्‍थाना, सुभारती अस्‍पताल के चि‍कि‍त्‍सा अधीक्षक डॉ. डी सी सक्‍सेना सहि‍त वि‍वि‍ के अधि‍कारी, प्राचार्य और कई गणमान्‍य लोग उपस्‍थि‍त थे।

सुभारती विश्वविद्यालय में नैक टीम ने किया निरीक्षण

मेरठ। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की स्वायत्त संस्था राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (NAAC) की टीम ने मंगलवार को स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय में निरीक्षण व मूल्यांकन किया। नैक टीम 19, 20 और 21 अक्टूबर को भी विवि के विभागों का निरीक्षण करेगी।

 

 सुभारती विवि में निरीक्षण के लिए पहुंची 13 सदस्यों की पीयर टीम ने आज (मंगलवार) फैक्ल्टी ऑफ मेडिसिन, फैक्ल्टी ऑफ डेन्टिस्ट्री, फैक्ल्टी ऑफ नर्सिंग, फैक्ल्टी ऑफ इंजीनियरिंग एवं टेक्टनोलॉली, फैक्ल्टी ऑफ आर्ट्स एंड सोशल साइंस और फैक्ल्टी ऑफ एजुकेशन आदि का निरीक्षण किया। पीयर टीम के सदस्यों ने विवि के विभिन्न विभागों में शैक्षणिक और सह-शैक्षणिक गतिविधियों की गुणवत्ता की जानकारियां हासिल की।

 

 

 

विवि की आधारभूत सुविधाओंअध्यापनशोध आदि गतिविधियों का मूल्यांकन किया। शाम के समय सुभारती विश्वविद्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति भी दी गई। जिसमें विवि के विभिन्न संकायों के छात्र-छात्राओं ने सुभारती गान “ जहा भी अंधेरा हो दीप तू जलाता चल, राजस्थानी लोक नृत्य घूमर, भंगड़ा, चतुरंग नामक सांस्कृतिक समूह गान प्रस्तुत किया गया। इसी दौरान हिंदुस्तान बोल रहा हूं मैं नामक नुक्कड़ नाटक भी प्रस्तुत किया गया।

 

इन सभी सांस्कृतिक कार्यक्रमों की थीम सेवा, शिक्षा, संस्कार और राष्ट्रीयता पर आधारित रही। कार्यक्रम को आयोजित करने में आयोजन समीति का महत्वपूर्ण योगदान रहा। इस दौरान नैक पीयर टीम के माननीय चेयरमैन एवं सदस्य, विवि के संस्थापक डॉ. अतुल कृष्ण और डॉ. मुक्ति भटनागर, सुभारती के.के.बी चेरिटेबल ट्रस्ट की अध्यक्षा डॉ. शल्या राज, विवि के कुलाधिपति डॉ. जी.सी.श्रीवास्तव, कुलपति डॉ.एन.के.आहूजा, पूर्व कुलपति डॉ.वी.बी.सहाय, कुलसचिव पी.के. गर्ग, विवि के समस्त पदाधिकारी, प्राचार्य, प्राध्यापक और सैकड़ो छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

सास्कृतिक कार्यक्रम “स्पन्दन” का हुआ आगाज़

मेरठ। स्वामी विवेकानंद सुभारती विश्वविद्यालय में बुधवार से तीन दिवसीय वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों स्पन्दन का शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम के पहले दिन फेस पेंटिग प्रतियोगिता, फोटोग्राफी प्रतियोगिता और मेहंदी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इन प्रतियोगिता के प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्‍कार के लिए चुना गया।

 

कार्यक्रम का शुभारंभ सुभारती के.के.बी.चेरिटेबल की अध्यक्षा शल्या राज और विवि के कुलपति डॉ. एन.के.आहूजा ने मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलन और माल्यार्पण कर किया गया। सुभारती के इस वार्षिक सास्कृतिक कार्यक्रम के प्रथम दिन फेस पेंटिग प्रतियोगिता में विवि के आठ कॉलेज की टीमों ने भाग लिया। इसमें विभिन्न कॉलेज के छात्र-छात्रा आकाश सिंह, सैफ अली, दिग्विजय, अंशिका, प्राची चौधरी, पुलकित राठी, जैसमिन व उदिता अग्रवाल आदि ने भाग लिया।

 

 

प्रतियोगिता का विषय ‘पर्यावरण बचाओ, पृथ्वी बचाओ’ रहा, जिसमें प्रतिभागियों ने पर्यावरण के विभिन्न पहलुओं को रंगों के माध्यम से प्रस्तुत किया। डॉ. रफत ख़ान और डॉ. पूजा गुप्ता निर्णायक मण्डल में रही। प्रतियोगिता के संयोजक रीना विश्‍नोई व डॉ. सरताज रहे। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान लॉ कॉलेज की छात्रा उदिता अग्रवाल और फेकल्टी ऑफ साइंस के छात्र दिग्विजय और अंशिका ने दूसरे स्थान प्राप्त किया। वहीं मेंहदी प्रतियोगिता में सुभारती विवि के सभी कॉलेजों की छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

 

मेंहदी प्रतियोगिता की थीम करवा चौथ रही। डॉ. अंजलि खरे व बरखा भारद्वाज ने निर्णायक मण्डल की भूमिका निभाई। प्रतियोगिता को संयोजक मुमताज शेख और मंजू खरे रहीं। प्रथम स्थान एजुकेशन विभाग की छात्रा आयुषि ने तथा दूसरा स्थान सुभारती इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट्स की छात्रा दिव्या यादव ने व तीसरा स्थान सुभारती इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट्स की छात्रा शिव प्रसाद ने हासिल किया।

 

इस तीन दिवसीय वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों स्पन्दन के दूसरे दिन यानि शुक्रवार को कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। जिसमें बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं विषय पर पेंटिंग प्रतियोगिता और शिक्षा, सेवा, संस्कार और राष्ट्रीयता विषय पर नुक्कड़ नाटक का मंचन भी किया जाएगा। इस कार्यक्रम को आयोजित कराने में सुभारती विवि के संस्कृतिक विभाग की अध्यक्ष डॉ. भावन ग्रोवर और संस्कृतिक विभाग की समिति का अहम योगदान रहा। इस कार्यक्रम के दौरान विभिन्न विभागों के डीन, प्राचार्य, विभागाध्यक्ष और प्रवक्ता मौजूद रहे।

Subscribe to this RSS feed
loading...

New Delhi

Banner 468 x 60 px