Log in

 

updated 6:22 PM UTC, Mar 26, 2017
Headlines:

अयोध्या से मखौडा तक का विकास, होगा रोजगार के साथ

मनोज श्रीवास्तव /लखनऊ। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की योजना से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनाये गए योगी आदित्य नाथ कार्यकाल के प्रथम सप्ताह में ही संघी योजनाओं का क्रियान्वयन शुरू कर दिया। अखिलेशराज के अफसरों को बिना स्थान्तरित किये ऐन्टी रोमियों सेल और अवैद बूचड़ खानों को बंद कराने के सफल प्रयोग से प्रदेश की जनता के सामने योगी ने सिद्ध कर दिया कि बिना तुष्टिकरण के भी शासन चलाया जा सकता है।

 

जब से प्रदेश में ऐन्टी रोमियो सेल सक्रिय हुआ है तब से राज्य के कथित बुद्धजीवी तारा -तरह तर्कों से इसे गलत ठहराने में पूरी ताकत लगा दे रहे हैं। ये तो अच्छा रहा कि सरकार के इस कदम को प्रदेश के आलावा अन्य राज्यों में भी लड़कियों ने सराहा। सपा राज में गली-गली कुकुरमुत्तों की तरह उग आये मांस की दुकानों को योगी के अतिरिक्त किसी और के राज में कराना मुश्किल ही नहीं असंभव जैसा था। संघ प्रचारक रह चुके एक संपादक के अनुसार आपरेशन रोमियों से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में व्यापक रूप से फैला लव -जिहाद को रोकने और अवैध बूचड़खानों को बंद करके गौकशी रोकने का सफल प्रयोग किया गया है।

chapiya swaminarayan temple.jpg

संघ की अनुसांगिक इकाई धर्म जागरण मंच से जुड़े एक जिम्मेदार कार्यकर्ता की मानें तो पौराणिक शहरों को रोजगार के साथ ऐसा विकास किया जायेगा जिसमें स्थानीय लोगों को रोजगार की किल्लत से छुट्टी मिले। इसके लिए योगी का अगला टारगेट रामायण परिपथ की योजना को साकार करना होगा। जिसके तहत गुजरात में स्वामी नारायण छपिया संप्रदाय (अक्षरधाम -ग्रुप ) का उद्गम करने वाले संत स्वामी नारायण की जन्मभूमि गोंडा जिले की छपिया, अयोध्या नरेश राजा दशरथ द्वारा मनवर नदी के तट पर बस्ती जिले के मखौड़ में श्रृंगी ऋषि द्धारा किये गये पुत्रेष्ठ यज्ञ के पावन स्थल और अयोध्या मे सरयू नदी के तट -घाट,अयोध्या नगर की चौदह और पंच कोशी परिक्रमा मार्ग को पौंराणिक सभ्यताओ के अनुसार विकसित कर उसका सुंदरीकरण करेगी।

makhauda dham.jpg

मखौडा धाम

संघ के अनुसांगिक इतिहास संकलन समिति के दिल्ली मुख्यालय से जुड़े एक प्रचारक और गुजरात कैडर के आईएएस ने यूपी विधानसभा चुनाव के पहले स्थलीय निरिक्षण कर लिया है।

 

विकास ,रोजगारपरकता के साथ एजेंडे को साकार करने के लिए संघ ने योगी को इस कुर्सी पर बैठाया है। छपिया -मखौड़ा -अयोध्या को जोड़ कर बनाने वाले इस योजना का डीपीआर तैयार हो चुका है। इस काम को अंजाम मिलते ही यहाँ की बेरोजगारी बहुत हद तक ख़त्म हो जाएगी। उन्होंने कहा कि २०१९ के पहले हमारा एजेंडा रोजगार के साथ अयोध्या का विकास होगा।

 

गृहमंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा बयान ‘सील होगी भारत पाक सीमा’

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि भारत ने पड़ोसी देशों पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमाएं बंद करने की योजना बनाई है।

सिंह ने मध्य प्रदेश मे सीमा सुरक्षा बल के सहायक कमान्डेंटस की पासिंग आउट परेड में संबोधित करते हुए कहा, "भारत पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ जितनी जल्दी हो सके अंतरराष्ट्रीय सीमाओं को सील करने की योजना बना रहा है। यह आतंकवाद और शरणार्थियों की समस्या के खिलाफ भारत का सबसे बड़ा कदम है।

 

गृह मंत्री ने आश्वासन दिया कि पाकिस्तान के साथ सीमा 2018 तक बंद कर दी जाएगी।

घुसपैठ के प्रयासों में वृद्धि के मद्देनजर निर्णय लिया गया है,

सिंह ने कहा, "इस परियोजना पर केंद्रीय स्तर पर गृह सचिव द्वारा नियमित रूप से निगरानी रखी जाएगी। सुरक्षा के नजरिये से बीएसएफ और राज्य स्तर पर मुख्य सचिवों को भी शामिल किया जाएगा।" उन्होंने कहा कि सरकार सीमा को सील करने के लिए कठिन इलाकों में तकनीकी सहायता भी प्रदान करेगी।

 

बीएसएफ के जवानों की तारीफ करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि बल ने अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर अपनी अलग छाप छोड़ी है साथ ही पड़ोसी देशो में अपनी अलग पहचान बनाई है। बीएसएफ ने अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर कार्य के नियमों को बदल दिया है। उन्होंने सेना में एक प्रभावी शिकायत निवारण तंत्र की योजना के बारे में भी बात की जो जल्द ही लागू की जाएगी।

अब शनिवार और रविवार को भी खुलेंगे बैंक

वित्तीय वर्ष 2017 की समाप्ति के दौरान भारतीय रिजर्व बैंक ने बड़ा कदम उठाते हुए दिनांक 25 मार्च से 1 अप्रैल तक शनिवार और रविवार समेत हर दिन बैंक खोलने का निर्देश जारी किया है।

यानि की अब आप छुट्टी वाले दिन अपना बैंक का कोई भी काम कर सकेंगे, बैंकों मे काम आम दिनों की तरह ही चलेगा।

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा दी गई सुचना मे बताया गया की चालू वित्तीय वर्ष में बैंकों मे भुगतान कार्य सामान्य रूप से चालु रहेगा।

अधिसूचना मे स्पष्ट किया गया की भारतीय रिजर्व बैंक के अंतर्गत काम करने वाली सभी सरकारी और निजी एजेंसी और बैंक पूर्ण रूप से खुलेंगे।

 

अमेरिका में बढ़ रहे नस्लीय दुर्व्यवहार की एक और घटना पढें पूरा मामला

न्यूयॉर्क: दक्षिण एशियाई मूल के लोगों के खिलाफ नफरत अपराधों की एक श्रृंखला में एक शिख अमेरिकी लड़की को मेट्रो ट्रेन पर परेशान किया गया था। मामला उस वक्त का है, जब एक आदमी लड़की को मध्य पूर्व का समझकर वापस लेबनान जाओ चिल्लाने लगा और तुम इस देश की नहीं हो बोलने लगा।

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस महीने मैनहैटन में एक दोस्त के जन्मदिन की पार्टी के लिए राजप्रीत मेट्रो ट्रेन से जा रही थी।

 

राजप्रीत ने 'this week in hate' नामक टाइम्स अनुभाग के लिए एक वीडियो में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की चुनाव मे जीत के बाद से देश भर में घृणात्मक अपराध और उत्पीड़न का माहौल बताया है।

राजप्रीत ने कहा कि वह अपने फोन को देख रही थी, एक आदमी ने उनसे कहा, "क्या तुम जानती हो कि समुद्री क्या देखते है? क्या तुम जानती हो कि उन्हें क्या देखना है? वे इस देश के लिए क्या करते हैं? "।

उसने राजप्रीत से कहा कि उन्हें "लेबनान के लिए वापस" भेजा जाएगा और उपेक्षा का उपयोग करते हुए उसने कहा, "आप इस देश की नहीं हैं"।

 

राजप्रीत ने कहा कि वह लेबनान से 30 मील की दूरी पर पैदा हुई थी, न कि मध्य पूर्वी देश में, बल्कि वह अमेरिकी राज्य के इंडियाना नामक शहर में।

सूत्रों ने बताया इस पूरी घटना के बाद दो लोग राजप्रीत के समर्थन मे आए और उनका हाल पूछा और बताया जब आप अल्पसंख्यक होते हैं, तो आप केवल अपने दम पर ही कुछ अनुभव करते हैं।

पिछले महीने, भारतीय मूल की एकता देसाई ने एक वीडियो पोस्ट किया था। जिसमे एक  अफ्रीकी-अमेरिकी ने उसे नस्लीय रूप से अपमानित किया और उसके अनुचित नामों को बुलाया क्योंकि वह एक मेट्रो ट्रेन पर यात्रा कर रही थी।

स्टूडेंट्स को पोर्न दिखाकर पढ़ाती है ये अध्यापिका जानें कैसे

गुजरात के पोरबंदर शहर से एक अजीब मामला सामने आया है। जहां स्कूल में शिक्षा देने वाली अध्यापिका ही अश्लीलता की सारी हदे पार कर चुकी है। हाल ही में पोरबंदर पुलिस थाने में कुछ छात्रों ने एफआईआर दर्ज कराई है। जिसमे कहा गया है उनकी अध्यापिका बच्चों को अश्लील फिल्मे दिखाती है।

सूत्रों के अनुसार पोरबंदर के एक स्कूल में अध्यापिका विद्याथियों से अश्लील बातें किया करती है और उनके सामने डांस भी किया किया करती है। वहीं कुछ छात्रों ने कहा अध्यापिका अपने घर बुलाकर अश्लील फिल्में दिखाया करती है। इतना ही नही इसके बारे में किसी से कुछ भी कहने पर स्कूल से निकालने कि धमकी दिया करती थी।

पुलिस ने जब अध्यापिका से इस बारे में सवाल किया तो अध्यापिका ने अपने उपर लगे सभी आरोपों को स्कूल प्रशासन कि एक घटिया साजिश बताते हुए झुठला दिया है।

पुलिस इस मामले कि गंभीरता से जाँच कर रही है।      

अमेरिका करेगा 270 भारतीयों को डिपोर्ट,जानिए वजह

नई दिल्ली: भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के मुताबिक, ट्रम्प प्रशासन ने हाल ही में भारत को बताया कि, अवैध रूप से संयुक्त राज्य में रहने वाले 270 से अधिक भारतीय नागरिकों के निर्वासन का लक्ष्य रखा गया है।

सुषमा स्वराज ने गुरुवार को भारत की संसद के ऊपरी सदन में एक प्रश्नकाल के दौरान कहा था कि भारत सरकार ने अपने निर्वासन की अनुमति से पहले 271 नामों की सूची पर अधिक जानकारी मांगी है।

स्वराज ने कहा,जब तक हम इन लोगों की राष्ट्रीयता की पुष्टि नहीं करते हैं, हम सूची में दिए दावों को कैसे मान सकते हैं। हमने अमेरिकी सरकार से अधिक जानकारी के लिए कहा है, और नागरिकों के भारतीय होने की पुष्टि के बाद ही उनके निर्वासन के लिए एक आपातकालीन प्रमाण पत्र प्रदान करेंगे।

ओलेथ, कान में भारतीय कम्प्यूटर इंजीनियर की फरवरी में की गई हत्या और अन्य संदिग्ध नफरत से जुड़े अपराधों के बाद संयुक्त राज्य में अपने नागरिकों को लेकर भारत की चिंता बढ़ रही है। कथित निर्वासन सूची पर ट्रम्प प्रशासन से तत्काल कोई टिप्पणी नहीं हुई थी। वॉशिंगटन स्थित प्यू रिसर्च सेंटर की एक सितंबर की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में जन्मे संयुक्त राज्य अमेरिका में अवैध प्रवासियों की संख्या 2009 से 2014 के बिच 1,30,000 से बढ़कर करीबन 5,00,000 हो गई है।

डिपार्टमेंट ऑफ डीपोर्टमेंट होमलैंड सिक्योरिटी के आँकड़ों के मुताबिक, भारत व अन्य एशियाई जगहों से आए प्रवासियों में से कई कानूनी वीजा के साथ पहुंचे और अपने वीजा अवधी खत्म होने के बाद रुक गए।

 

प्रशासन नई नीतियों पर विचार कर रहा है, जो अधिकारियों को अवैध आप्रवासियों को हिरासत में लेने और उन्हें हटाने मे मदद कर सके। नए अधिकारियों को शामिल कर सके और निर्वासन सुनवाई की गति को तेज कर सके।

 

ट्रम्प प्रशासन ने इस हफ्ते अपराध करने वाले अनधिकृत आप्रवासियों की अपनी साप्ताहिक सूची जारी करना शुरू कर दिया।

 

इस महिला ने सीएम योगी से की ऐसी डिमांड अगर पूरी नही कि तो कर लेगी आत्महत्या

राघवेंद्र सिंह- बस्ती के मुण्डेरवा थाना क्षेत्र के परसा हज्जाम की सुनीता देवी ने अपने पति के खोज के लिये मुख्यमंत्री योगी से मदद की लगाई गुहार है महिला का पति तीन महीने से गायब है।

 

महिला स्थानीय एसपी और थाने के चकर लगा कर थक चुकी है। महिला ने कहा कि अगर 10 दिनों के अन्दर न्याय नहीं मिला तो वह एसपी ऑफिस के सामने आत्मदाह कर लेगी। महिला का पति मस्तराम पेशे से ट्रक ड्राईवर है, जो ट्रक लेकर बिहार गया था उसके बाद से अभी तक वापस नहीं आया।

अमेरिकी रक्षा सचिव से मिले अजीत डोभाल समुद्री सुरक्षा समेत इन मामलों पर हुई चर्चा

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के रक्षा सचिव जिम मैटीस से अमेरिका और भारत के संबंधों पर चर्चा करने के लिए पेंटागन में मुलाकात की। बैठक के दौरान, अंतरराष्ट्रीय कानूनों और सिद्धांतों को बनाए रखने में दोनों देशों के सहयोग और भूमिका पर चर्चा की गई।

 

शुक्रवार को बैठक के बाद मैटिस ने कहा हमारे जैसे डेमोक्रैसेस को इस तरह की बातचीत करने की आवश्यकता है और पिछले कई सालों से हमने रिश्तों को मजबूत किया है। बैठक के दौरान, रक्षा सचिव ने दक्षिण एशिया क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए भारत के प्रयासों की सराहना की। पेंटागन नौसेना प्रवक्ता कैप्टन जेफ डेविस ने बताया दोनों नेताओं ने हाल ही के वर्षों में प्रगति के लिए किए गए महत्वपूर्ण सहयोगों को लेकर अपने इरादों की पुष्टि की है।

 

डोभाल ने कहा हम लोकतंत्र और मूल्यों को साझा करते हैं, साथ ही हम सबका एक ही उद्देश्य और एक ही रूचि है। हम एक ही क्षेत्र में अपने विचारों को साझा करते है और विश्व स्तर पर मिलकर काम करते हैं। मैटिस और डोभाल ने समुद्री सुरक्षा और आतंक विरोधी, समेत कई क्षेत्रीय सुरक्षा मामलों के सहयोग पर चर्चा की।

डेविस ने बताया, दोनों नेताओं ने दोनों देशों के बीच मजबूत रक्षा साझेदारी को जारी रखने का वचन दिया है।

उत्तर प्रदेश में तीन महिला कॉन्स्टेबल निलंबित एसिड पीड़िता संग सेल्फी लेना पड़ा भारी

उत्तर प्रदेश पुलिस ने दो महिला कॉन्स्टेबलों को निलंबित कर दिया है, जिन्होंने लखनऊ मे अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर के अंदर एक एसिड हमले से पीड़ित महिला के सामने सेल्फी क्लिक की थी।

लखनऊ ज़ोन के  महानिरीक्षक सतीश गणेश, ने तीनों कॉन्स्टेबल को असंवेदनशील कहा और कहा कि उनके खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाएगी। इनमें से दो- रजनी बाला सिंह और डेजी सिंह- को जांच के बाद निलंबित कर दिया गया है जबकि तीसरी के खिलाफ जांच जारी है।

एक कथित तस्वीर ने लखनऊ में किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में पीड़िता के बिस्तर के पास बैठे तीन कांस्टेबल दिखाए।

45 वर्षीय महिला को कथित तौर पर एक ट्रेन पर दो पुरुषों द्वारा एसिड पीने के लिए मजबूर किया गया था। ऐसी घटना एक ही समूह ने महिला के साथ चौथी बार दौहराई है। गुरुवार की सुबह लखनऊ के चारबाग स्टेशन पर इलाहाबाद-लखनऊ गंगा गोमती एक्सप्रेस से उतरने के बाद पीड़ित महिला ने अपने साथ हुई घटना और अपनी दुर्दशा को एक कागज पर बयां कर दिया, जिसे उसने सरकारी रेलवे पुलिस को दी।


लखनऊ से 100 किलोमीटर दूर ऊंचाहार के अपने घर में एक संपत्ति विवाद के दौरान, पुरुषों के एक ही समूह ने पहले ही कथित तौर पर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया और उस पर एसिड से हमला किया है।

लाउडस्पीकर पर नमाज अदा करना बंद करो नहीं तो नमाज नही होने देंगे

यूपी में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद ही राम राज्य कि स्थापना पर जोर दिया जा रहा है जिसके चलते हाल में उत्तर प्रदेश के जियानगला गांव के मुस्लिम समुदाय के लोगों को वहां के मस्जिदों में पर्चे मिले हैं, जिसमें मुस्लिम समुदाय को लाउडस्पीकर पर नमाज ना करने की हिदायत दी गई है। पर्चे में लिखा गया है कि मुस्लिम लाउडस्पीकर पर नमाज अदा करना बंद कर दें नहीं तो उन्हें मस्जिद में नमाज में नमाज नही होगी। पर्चे के आखिर में “सभी हिंदु” लिखा है।

घटना सुभाष नगर क्षेत्र की है, जहां गुरूवार की रात इन पर्चों को मस्जिद में डाला गया लेकिन लोगों को इसकी खबर शुक्रवार की सुबह हुई जब उन्होंने ये पैम्पलट मस्जिद की दीवार पर देखे। पर्चे में लिखा था, “मुस्लिमों को स्वयं व्यवहार करना सीखना चाहिए। अब हमारी सरकार सत्ता में आ गई है। मुस्लिम नमाज में लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करना बंद कर दें नहीं तो हम दोनों मस्जिदों में नमाज होने नहीं देंगे। यह मात्र धमकी नहीं है।”

घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी गई पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें शिकायत मिली थी कि दोनों मस्जिदों के अंदर भडकाऊ पर्चे डाले गए है। इसी के आधार पर अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई है।

 

पुलिस मामले की जांच कर रही है व इन शरारती तत्वों की तलाश में है।    

Subscribe to this RSS feed
loading...

New Delhi

Banner 468 x 60 px