Log in

 

updated 8:02 AM UTC, Feb 28, 2017
Headlines:

यूपी चुनाव-छठे चरण में सबसे ज्यादा उम्मीद्वार गोरखपुर शहर में

दीपक शाही/गोरखपुर, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव-2017 में छठे चरण के मतदान की तारीख  04.03.2017 है जिस पर प्रातः7 बजे से शाम 5 बजे तक 49 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए,मतदान कराया जाएगा।

49 सीटों पर कुल 17286327 मतदाता हैं जिसमें पुरुष9478923 और महिला 7806416 मतदाता हैं और अन्य 988 मतदाता 635 उम्मीद्वारों के भाग्य का फैसला करेंगे।

सर्वाधिक उम्मीदवार 322- गोरखपुर शहरी (23 उम्मीदवार) विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में हैं।वहीं सबसे कम उम्मीदवारों की संख्या 347- आजमगढ़ (07उम्मीदवार)

355- मुहम्मदाबाद गोहना (07उम्मीदवार) हैं।

 

एआईटीएमसी

0

बीएसपी

49

भाजपा

45

सीपीआई

15

सीपीआई(एम)

04

कांग्रेस

10

      एनसीपी

14

     आरएलडी

36

     सपा

40

निर्दलीय

                          174

पंजीकृत लेकिन गैर-मान्यता प्राप्त

                          248

कुल

                          635

 

  • 0

पहली अंत्‍योदय एक्‍सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी जानिए क्या है खासियत

नयी दिल्ली, रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने आज रेल भवन से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए तीसरी हमसफर ट्रेन और पहली अंत्‍योदय एक्‍सप्रेस ट्रेन को झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर रेल बोर्ड के अध्‍यक्ष श्री ए.के. मित्‍तल, मेंबर ट्रैफिक श्री मोहम्‍मद जमशेद, रेल बोर्ड के अन्‍य सदस्‍य, डाक विभाग के सचिव श्री बोयापति वी. सुधाकर तथा अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी भी उपस्‍थित थे।

 

अंत्‍योदय एक्‍सप्रेस आम जन के लिए लंबी दूरी की पूरी तरह अनारक्षित सुपरफास्‍ट ट्रेन हैं। इसमें आरामदेह सीट और समान के लिए रैक के अतिरिक्‍त पेय जल उपलब्‍ध कराने वाली मशीन, मोबाइल चार्जिंग प्‍वाइंट, मॉड्यूलर शौचालय, एलईडी लाईट जैसी आधुनिक सुविधाएं हैं।

पूरी तरह से अनारक्षित अंत्‍योदय एक्‍सप्रेस की गाड़ी संख्‍या 22877/22878 है यह गाडी एर्नाकुलम-हावड़ा के बीच साप्ताहिक चलेगी। यह ट्रेन सलेम, काटपाड़ी, विशाखापत्‍तनम होते हुए हावडा पहुँचेगी।

 

अंत्योदय ट्रेन: क्या है खासियत?

  • 22 कोच वाली अंत्योदय के हर डिब्बे में पानी के लिए एक्वा गार्ड लगे  है। -

  • यह ट्रेन 120 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलेगी।  

  • इस ट्रेन में रोशनी के लिए एलईडी लाइट लगी  है।

  • अंत्योदय ट्रेनहै जिसमे गर्मी के दिनों के  लिए पंखों से लैस किया गया है।

  • हर कोच में 20 मोबाइल चार्जिंग पॉइंट्स होंगे।

  • मुफ्त में यात्रियों को पीने के लिए इससे शुद्ध पानी मिलेगा।

  • एलएचबी कोच वाली यह ट्रेन अगर दुर्घटनाग्रस्त होती है तो इसमें यात्रियों को कम क्षति पहुंचती है।

  • एक कोच में 100 यात्रियों के बैठने और 200 यात्रियों के खड़े होने की जगह  होगी।



  • 0

क्या मोदी को ‘करंट पसंद है’

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बिजली वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री तार छूकर देख लें कि उसमें करंट है या नहीं। देवरिया में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि हम वाराणसी को 24 घंटे बिजली दे रहे हैं, लेकिन मोदी झूठे बयान देकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। प्रधानमंत्री गंगा मैया की कसम खाकर कहें कि यूपी में बिजली नहीं दी जा रही है। हम ईद पर भी बिजली देते हैं और दीवाली पर भी। हम रमजान पर भी बिजली देते है और होली पर भी। मोदी जी अगर सच्चाई जानना चाहते है तो यहाँ आकर देखें।

 

अखिलेश ने मोदी सरकार की 'बुलेट ट्रेन' प्रोजेक्ट पर तंज कसते हुए कहा, हम तो मेट्रो चलवा रहे है। आपकी बुलेट ट्रेन कहाँ है, अब तो आपकी सरकार बने तीन साल हो गए। आप केंद्र में तीन साल से हैं फिर भी आपकी बुलेट ट्रेन का नामो निशान नहीं है। उन्होंने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, आप तो तीन बार गुजरात के मुख्यमंत्री रहे वहां भी मेट्रो नहीं बनवा पाए। हमने तो तीन जगह मेट्रो बनवाई है और छह शहरों के लिए प्रस्तावित है जिसमे आपका संसदीय क्षेत्र बनारस भी है।


सूबे के मुख्यमंत्री ने कहा कि मोदी जी ने नोटबंदी का फैसला लेकर गरीबों और मजदूरों को अपने पैसे के लिए ही लाइन में लगा दिया। कई लोगों की लाइनों में खड़े होने से मौत हो गई। उन्होंने कहा, पैसा काला नहीं होता बल्कि लेन-देन काला होता है समाजवादी पार्टी ने लाइन में खड़े लोगों की मौत के बाद उनके परिजनों को दो-दो लाख रुपये की सहायता दी। मोदी जी उत्तर प्रदेश उम्मीदों का प्रदेश हैं यहाँ के लोग समझदार है आपके बहकावे में नही आयेंगे।

  • 0

पूत के पांव पालने में दिखाई पड़े, महेश तिवारी समर्थकों पर प्रतीक भूषण ने कराया हमला, प्रशासन कर रहा खानापूर्ति

गोण्डा। आज शाम मतदान सम्पन्न होने के बाद शहर के मुन्नन खां चौराहे पर स्थित एक मैरिज हाल के पास शिवसेना के विधानसभा प्रत्याशी महेश तिवारी के समर्थकों पर बाहूबली सांसद ब्रजभूषण सरण सिंह के पुत्र प्रतीक भूषण सिंह ने जानलेवा हमला कर दिया। जिसमें महेश तिवारी के चार समर्थक लोग घायल हो गए। इनमें एक की हालत गंभीर है। बताया जा रहा है कि एक व्यक्ति के ऊपर फार्च्यूनर गाडी भी चढ़ा दी गई।

 

WhatsApp Image 2017-02-27 at 11.17.16 PM.jpeg

 

 

गोंडा सदर सीट से बीजेपी के बागी शिवसेना प्रत्याशी महेश नारायण तिवारी के समर्थक सत्येंद्र मिश्र निवासी चड़ौवा थाना वजीरगंज अपने अन्य साथियों के साथ जा रहा था। वह नगर कोतवाली क्षेत्र के मुन्नन खां चौराहे पर स्थित एमके मैरिज हाल के पास पहुंचा ही था कि भाजपा प्रत्याशी प्रतीक भूषण सिंह व उनके दर्जनों समर्थकों ने उसे रोक लिया और लोहे की रॉड व हाकियों से जानलेवा हमला कर दिया। इसमें सत्येंद्र समेत चार लोग घायल हो गए। बताया जाता है कि इनमें एक की हालत गंभीर बनी हुई है। इन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां इलाज चल रहा है।

 

WhatsApp Image 2017-02-27 at 10.50.51 PM.jpeg

 

 

इस पूरे मामले पर पुलिस प्रशासन की खानापूर्ति जारी है बताया जा रहा है कि अभी तक तहरीर पर कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई। बाहूबली सांसद के खौफ से डीएम और एसपी भी कुछ करने से डर रहे हैं।

 

प्रत्यक्ष दर्शियों के मुताबिक गोंडा सदर मे दबंग सांसद पुत्र ने विधायक बनने से पहले ही दबंगई शुरू कर दी है। गोंडा सदर से ब्राह्मण नेता व शिवसेना प्रत्याशी महेश नरायन तिवारी के मुताबिक प्रतीक भूषण यह सब हार की हताशा में कर रहे हैं। गौरतलब है कि ब्राहम्ण बाहुल्य गोंडा सदर विधानसभा में जब भी कोई ब्राहम्ण नेता आगे बढ़ने की कोशिश करते हैं, ठाकुर नेताओं का ग्रुप उनको ठिकाने लगा देता है। गोंडा में चुनाव आयोग के नियम कानून-कानून ही रह गये। यहाँ लोकतंत्र मे शुरू हुआ जातिवादी आधिपत्य का नंगा नाच चल रहा है। नियम कानून धरे के धरे रह गये, अधिसूचना जारी होने के बावजूद गोंडा मे ठाकुरों के आगे राजनीति मे आगे जाने वाले को ध्वस्त करने में हर बार की तरह प्रशासन गुंडो का साथ देने में लगा है।

 

WhatsApp Image 2017-02-27 at 11.17.15 PM.jpeg

 

बताते चलें कि जनपद मे घनश्याम शुक्ला कि भी वोटिंग वाले दिन ही संदिग्ध मौत हो चुकी है। जनपद गोंडा के मठाधीश राजनैतिक षडयंत्र के तहत अब महेश तिवारी के प्रा्णों की आहूति लेने की कोशिश करते नजर आ रहे हैं। इस बार तो बाल-बाल बचे महेश तिवारी मगर कब तक इस प्रशासन के साथ सुरक्षित रहेंगे कहा नहीं जा सकता क्योंकि घटना के 7 घंटे बीत जाने के बाद भी गोंडा पुलिस ने न कोई एक्शन लिया न ही एफआईआर दर्ज की। बस जाँच के नाम पर खानापूर्ति कर रही है।                        

 

निर्दलीय प्रत्याशी भी ठोंक रहे ताल अन्य पार्टियों को देंगे जबरदस्त टक्कर

मिर्जापुर : जिले में रविवार को अलग अलग जगह मे  नेताओं ने 3 जनसभाओं को संबोधित किया। वहीं निर्दलीय प्रत्याशी राम राज सिंह पटेल भी चुनाव में मजबूती से ताल ठोक रहे है, और अपना चुनावी जनसभा चुनार विधान सभा के देवकली इंटर कालेज के मैदान मे किया। जिसमे  काफी स़ंख्या मे लोंग पहुंचे थे।सालों से कांग्रेस का दामन थामे, उसके लिए रामराज ने पार्टी की सेवा की ,लेकिन सपा-काग्रेंस का गठबंधन हो जाने से सपा ने अपना प्रत्याशी उतार दिया, तो राम राज ने कहा कि हम गरीब जनता के साथ हैं। हमे किसी पार्टी ने टिकट नही दिया तो क्या हुआ, हम चुनाव लड़ेंगे लोग चंदा देकर हमे चुनाव लड़ा रहे है।

 

हम 27 साल से लगातार जनता के साथ रहे हैं, चाहे धरना हो पुलिस उत्पीडन हो, बिजली हो ,घटना हो हमने जनता के लिए हमेशा संघर्श किया है। वही अन्य पार्टियों पर तंज कसते हुए कहा कि, यहाँ कोई फिल्मी स्टार नही आ रहा है, यहाँ कोई बड़ा नेता नही आ रहा है, यहाँ कोई हेलिकाप्टर नही आ रहा है, कोई ऐसी बस नही आ रही है ,यहाँ चुनार कि जनता आई है, हम आप सबके दम पर चुनाव लड़ रहे है ,आप सबका सहयोग चाहिए, हम चुनाव जीतेगें तो चुनार कि जनता जहाँ विकास से कोसों दूर चला गया है। क्षेत्र मे बिजली पानी, बाढ कि समस्या, रोजगार कि समस्या, बनी हुई है, उसको दूर करेंगे। हमे जिताकर विधान सभा में भेजने का काम जनता करेगी। हम वादा करते है, जिस दिन हम विधायक बन गये, तो चुनार विधानसभा को एक विकास कि राह पर ले जाऊंगा।

 

इस चुनार विधान सभा कि सीट सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती है। इस अवसर पर उपस्थित रहे अनिल सिंह, लल्लन सिंह, सत्यनरायन लालब्रत, राजेन्द्र सिंह, प्यारेलाल, प्रभुनाथ मास्टर, नसुरूल्ला, कैलास यादव, बच्चा गुप्ता, कन्हैया, शिवकरन, भानु, सहित काफी ने सहयोग दिया।

  • 0

मतदान के दौरान पीठासीन अधिकारी की हृदय गति रुकने से मौत

बलरामपुर, मतदान के दौरान बलरामपुर सदर के कोलवा मतदान केंद्र पर बूथ संख्या 175 के पीठासीन अधिकारी मालिक राम की ह्रदय गति रुकने से मौके पर ही मौत हो गई। मृतक मालिक राम तुलसीपुर विधानसभा के भंगहा कला निवासी हैं, तथा देवपुरा प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के पड़ पर तैनात थे।

 

53 प्रतिशत मतदान के साथ 56 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में कैद



बलरामपुर पांचवें चरण के दौरान चल रहा मतदान शाम 5:00 बजे शांति एवं निष्पक्ष ढंग से संपन्न हो गया। सुबह 7:00 बजे से चालू मतदान के दौरान तुलसीपुर 53.40 % गैसडी 57.10 % उतरौला 49.5% और बलरामपुर में 49.3% मतदान हुआ, पूरे जनपद में कुल 52.31 प्रतिशत मतदान हुआ। कुछ बूथों पर अभी भी मतदान जारी  है, मतदान के दौरान बलरामपुर में पांच ईवीएम मशीन तथा गैसड़ी और तुलसीपुर में दो दो ईवीएम मशीन तकनीकी गड़बड़ी के चलते बदली किया गया। तुलसीपुर में सपा उम्मीदवार मसूद खा तथा कांग्रेस उम्मीदवार बाहुबली सांसद रिजवान जहीर की बेटी जेवा रिजवान के मध्य कांटे की टक्कर नजर आई । गैसड़ी विधानसभा में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार एवं उत्तर प्रदेश शासन में चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर एस पी यादव तथा बसपा प्रत्याशी अलाउद्दीन खा के बीच बना रहा। उतरौला विधानसभा में समाजवादी उम्मीदवार आरिफ अनवर हाशमी और भाजपा उम्मीदवार रामप्रताप वर्मा के बीच माना जा रहा है।  बलरामपुर में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन प्रत्याशी शिवलाल तथा बसपा उम्मीदवार राम सागर अकेला के बीच कांटे की टक्कर देखी गई।

 

मतदान के दौरान पीठासीन अधिकारी की हृदय गति रुकने से मौत

IMG-20170227-WA0052.jpg

 

   मतदान के दौरान बलरामपुर सदर के कोलवा मतदान केंद्र पर बूथ संख्या 175 के पीठासीन अधिकारी मालिक राम की ह्रदय गति रुकने से मौके पर ही मौत हो गई। मृतक मालिक राम तुलसीपुर विधानसभा के भंगहा कला निवासी हैं, तथा देवपुरा प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के पड़ पर तैनात थे

 

  • 0

5वें चरण के बाद चुनावों में बीजेपी के प्रचार में उतरे भोजपुरी सुपरस्टार रविकिशन

मिर्जापुर, चुनार विधान सभा मे रविवार को राजदीप महाविद्यालय कैलहट में भोजपुरी फिल्म के सुपरस्टार और भाजपा के नेता रविकिशन ने जनसभा को संबोधित किया ,वही  बीजेपी के पक्ष में चुनार विधान सभा के प्रत्याशी अनुराग सिंह को वोट  करने की अपील की और कहा कि उत्तर  प्रदेश में 14 वर्षों के वनवास के बाद एक बार फिर बीजेपी की सरकार बनने जा रही है।बीजेपी ही एक मात्र ऐसी पार्टी है जो प्रदेश के लोगों को विकास की कर सकती है।

 

देश में हुई नोटबंदी की चर्चा करते हुए कहा कि मोदी जी ने देश से भ्रष्टाचार,आतंकवाद,कालाधन मिटाने के लिये जो काम किया है वह बहुत बड़ा काम है ,और आज जनता उसको समर्थन कर रही है।कहा कि बीजेपी में आकर ऐसा लग रहा है कि वापस अपने घर आ गया हूँ।

chunar vidhansabha mirzapur Ravi kishan1.jpg

जनसभा को केंद्रीय राज्यमंत्री संतोष गंगवार ने सम्बोधित करते हुए जनता से कहा कि पिछले चुनावों में हुई गलती को सुधारने का मौका आ गया है।इस बार बीजेपी को जिताये जिससे प्रदेश में विकास हो सके।

 

अनुसूचित जाति जनजाति मोर्चे के अध्यक्ष और सांसद विनोद सोनकर ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश कि सरकार कहती है कि हमारा काम बोलता है हम कहते है कि ,आपका काम नही आपका कारनामा बोलता है।कहा कि अखिलेश जी कब्रिस्तान कि चहारदीवारी बनाने के पैसे दिये ठीक है लेकिन जहाँ अंतिम समय में जाना है उस शमशान के बारे में भी कभी क्यों नही सोचा उन्होंने कहा कि प्रदेश में सपा और काँग्रेस का यह गठबंधन,गठबंधन नही ठग बंधन है।

 

जनसभा को चुनार विधान सभा से बीजेपी उम्मीदवार अनुराग सिंह ने भी सम्बोधित किया।संचालन उदय सिंह ने किया।दिलीप सिंह,ई.राजबहादुर  सिंह,राजेश,अश्वनी,आलोक सिंह , समेत  कार्यक्रम मे हजारो की संख्या लोग पहुंचे थे, वही नही रवि किशन ने भोजपुरी अंदाज गीत गा कर व ठुमके लगाकर खुब तालियाँ बटोरी।



  • 0

अब यू पी में प्रशांत का ‘काम बोलता है’

समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश की सभाओं का अंदाज कुछ बदला बदला सा है। भैय्याजी अपनी सभाओं में विरोधियों पर तलवार नहीं तान रहे, बल्कि बड़ी सहजता से अपने ऊपर हो रहे हमलों का जवाब दे रहे हैं। दरअसल ये एक पूरी रणनीति के तहत किया जा रहा है, जिससे अखिलेश को इन चुनावों में जीत दिलायी जा सके।

पीएम मोदी और सीएम अखिलेश सीधे आमने सामने है और उनका ये टकराव दिलचस्प बनता जा रहा है। उत्तर प्रदेश के इन चुनावों में एक ओर पीएम मोदी अखिलेश पर हमला  कर रहे हैं तो अखिलेश पलटवार की जगह आरोपों का जवाब दे रहे हैं। सवालों जवाबों के इस टकराव के बीच प्रदेश की राजनीति का एजेंडा तय किया जा रहा है। इस रणनीति के तहत अखिलेश को मोदी पर तीखा हमला करने से भी मना किया गया है।

प्रशांत का प्लान

कांग्रेस और सपा दोनों के लिए पीके की ही टीम पूरी जी-जान से जुटी है। इस गठबंधन को शुरू कराने से लेकर इसे चलाने तक की रणनीति का हर हिस्सा तैयार करने की ज़िम्मेदारी पीके की ही है। प्रशांत अपनी पुरानी 2014 के लोकसभा चुनाव वाली पॉलिसी पर ही काम कर रहे हैं। इसी पॉलिसी को उन्होंने बिहार में नीतीश के लिए भी अपनाया था। प्रशांत चाहते हैं कि, उनका नेता हर हाल और किसी भी सूरत में राजनीति के केंद्र बिंदु में ही रहे। इसके लिए टीम ऑफ़ प्रशांत अपनी रणनीति को कुछ घंटे पहले अपडेट करती है। फिर उसे अखिलेश तक पहुंचाया जाता है, जिसे अखिलेश चुनावी सभा में अपने खास अंदाज में पेश करते हैं। जैसे कि हाल ही में मोदी ने अखिलेश पर ताबड़-तोड़ हमले किये। जिसमें उन्होंने समाजवादी के चुनावी नारे 'काम बोलता है' को 'कारनामा बोलता है' कहकर संबोधित किया।

इसी तरह से बिखरा कुनबा और दो कुनबों के मिलन वाले पीएम के बयान को भी अखिलेश ने बड़ी ही सादगी से पेश किया है। इसी तरह से खराब क़ानून व्यवस्था के मुद्दे पर भी सीएम ने आंकड़ों को सबके सामने रखा। अपने काम का हिसाब देते हुए अखिलेश ये भी नहीं कि बचकर निकलते हों वो जाते जाते अपनी बड़ी प्रतिद्वंदी पार्टी बीजेपी पर व्यंग हमला कर ही जाते हैं।अखिलेश को प्रशांत ने माया पर हमला करने से भी रोक रखा है। जिससे दलित-मुस्लिम की सहानुभूति माया को न मिल सके। मायावती इसी बात से तिलमिला कर अपनी हर रैली में मुस्लिमों को अपनी तरफ खींचने की पूरी कोशिश करती है। माया पर हमला न करने की एक वजह ये भी है कि नतीजे अगर त्रिशंकू विधानसभा के रहते हैं तो बसपा से गठबंधन करके बीजेपी को सत्ता से दूर रखा जा सके।

रणनिति अखिलेश की जीत का ख़ास मंत्र

इस पूरे काम के पीछे कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की पूरी टीम काम कर रही है। इस टीम ने मोदी की हर रणनीति पर पैनी नज़र रखी हुई है। किस तरह से पीएम के भाषण पर अखिलेश को जवाब देना है। कौनसा मुद्दा किस तरह सामने लाना है, टीम पीके इस पर पूरी तरह से लगी है। मोदी के हर हमले का जवाब हल्के चुटीले अंदाज में देने की सलाह अखिलेश को दी गई है। जिससे मोदी की टीम ज़्यादा आक्रमकता के साथ अखिलेश और उनके काम पर हमला न कर सके।

पीके की रणनीति को ग़ौर किया जाए तो बिजली, श्मशान, कब्रिस्तान जैसे मुद्दों पर युवा सीएम ने आपा खोकर आक्रमक होने की जगह पीएम को मज़ाकिया अंदाज में जवाब दिया। जैसे ही प्रधानमंत्री मोदी ने बिजली का मुद्दा छेड़ा तो समाजवादी सोशल टीम ने तुरंत ईद-दिवाली के दौरान बिजली सप्लाई के आंकडे़ें सोशल साइट पर डाल दिये। अखिलेश को पूरी तरह से विकासवादी राजनीति पर फोकस करने को कहा गया है।

मंत्री समेत कई दिग्गजों ने किया मतदान

 बलरामपुर, पांचवें चरण का मतदान कड़ी सुरक्षा के बीच सुबह 7:00 बजे शुरू हो गया जिसमें 15 लाख  39 हजार 244 मतदाता 1505 पोलिंग बूथों पर अपने मताधिकार का प्रयोग करते हुए 53 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला शुरू कर दिया है शांति एवं निष्पक्ष  मतदान के लिए 10 जोनल मजिस्ट्रेट113 सेक़्टरमजिस्ट्रेट 98 माइक्रो माइक्रो आब्जर्वर की तैनाती की गई अपराहन 12:00 बजे तक तुलसीपुर में 39%  गैसडी39% उत्तरौला 39% बलरामपुर 38% अब तक जनपद  मैं लगभग 38 % मतदान सो चुका है चिकित्सा  स्वास्थ्य एवं  वन्यजीव मंत्री डॉक्टर एस पी यादव आपने  मतदान केंद्र पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया पांचवें चरण के चुनाव में समाजवादी और कांग्रेस गठबंधन को भारी बहुमत मिलने की बात कही।

3:00 बजे अपडेट- बलरामपुर 43%गैसडी45% तुलसीपुर 45%उतरौला44% ओवराल44.25%

 

Subscribe to this RSS feed
loading...

New Delhi

Banner 468 x 60 px